Khula Sach
ताज़ा खबरमीरजापुरराज्य

Mirzapur : जिलाधिकारी द्वारा जनपद में नई पहल करते हुये प्रगतिशील किसानो से स्थापित किया गया संवाद

किसानो को यथा सम्भव प्रशासनिक सहयोग देने का दिया आश्वासन

टेक्नोलाजी का उपयोग कर कम खर्च में पाये अधिक उत्पाद -जिलाधिकारी

रिपोर्ट : तपेश विश्वकर्मा

मीरजापुर, (उ0प्र0) : जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने 4 फरवरी, 2021 को कलेक्ट्रेट सभागार में जनपद के कृषि, पशुपालन, कुकुक्ट पालन तथा उद्यान से सम्बन्धित प्रगतिशील कृषको से सवांद स्थापित कर उनसे चर्चा की गयी तथा उनके द्वारा उत्पादो को भी देखा गया। इस अवसर पर जनपद के जागरूक एवं प्रगतिशील कृषको के द्वारा अपने अपने उत्पादो को जिलाधिकारी को दिखाया गया तथा उससे होने वाली आमदनी के बारे में जानकारी दी गयी। जिलाधिकारी द्वारा इस अवसर पर उनके उत्पाद में आने वाले समस्याओ को यथा सम्भव निस्तारण करने व प्रशासनिक सहयोग मुहैया कराने का आश्वासन भी दिया गया।

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री के द्वारा देश के अन्न दाता किसानो की आय को दोगुनी करने के लिये प्रसाय किये जा रहे है। उन्होने कहा कि कम आय मे अधिक उत्पादन प्राप्त करने के लिये टेक्नोलाजी का उपयोग आवश्यक है। उन्होने कहा कि कृषि कार्य औद्यानिक खेती साग सब्जी-फूल तथा औषधिय खेती पर काम करने वाले प्रगतिशील किसानो के अनुभवो से गोष्ठियो एवं परिचर्चाओ के माध्यम से अन्य किसानो को भी परचित कराया जाय ताकि वे भी कम खर्च में अधिक फसलोत्पादन कर सके।

किसानो के द्वारा विभिन्न फसलो के मार्केटिंग की व्यवस्था उपलब्ध करवाने की मांग पर जिलाधिकारी ने कहा कि इसके लिये शासन स्तर पर वार्ता कर प्रयास किया जायेगा। उन्होने यह भी कहा कि जिस फसल को स्टोर किया जा सकता है। उसका सही समय का इंतजार करते हुये बाजारो में बेचने हेतु ले जाये जाकि उसका सही मूल्य मिल सकें। जिलाधिकारी ने धान खरीद के बारे में जानकारी देते हुये बताया कि जनपद के सभी किसानो का धान क्रय कर समय से भुगतान कराया जा रहा हैं।

अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अविनाश सिंह के द्वारा बताया गया कि जनपद में आधुनिक व वैज्ञानिक तरीको से किसानो को रूबरू कराने के उद्देश्य से पूरे जनपद में बड़ी-बड़ी गोष्ठियो का आयोजन कर कृषि वैज्ञानिको व इस क्षेत्र में कार्य कर रहे प्रगतिशील किसानो के अनुभवो से लोगो को परचित कराया जा रहा हैं। इस अवसर पर प्रगतिशील कृषक हिमांशू सिंह व राज शेखर द्वारा बायोफ्लाक, कुमारी नेहा व गौरव सिंह पटेल ने आर0ए0एस0, शंकर सिंह द्वारा मत्स्य, योगेन्द्र सिंह कम्पोस्ट कम्पोजर, सुरेश कुमार कुमार सिंह काला चावल उत्पादन, मुकेश पाण्डेय वर्मी कम्पोस्ट उत्पादन, राजेश कुमार पटेल काला गेहूॅ, केशव कुमार, गोविन्द नरायन अखलेश्वर पाण्डेय रामधनी पटेल एवं धीरज कुमार द्वारा जैविक खेती बंसत लाल ने मसरूम उत्पादन, संजय मिश्रा केला की खेती, रेनू मौर्या उन्नत कृषि यंत्र द्वारा फसल उत्पादन के बारे में अपने अनुभवो को बताया गया।

इसी प्रकार उद्यान विभाग के प्रगतिशील कृषक राधेश्याम सिंह उर्फ केला गुरू द्वारा केला, सहेन्द्र सिंह केला/करौदें का मुरब्बा, विनोद मौर्या मसरूम, आशाराम दूबे व आकाश दूबे के द्वारा ड्रैगन फूड/पाली हाउस, खुशी लाल मौर्या सतावर/वींन्श, उदय प्रताप सिंह मसरूम व रमेश सिंह ने सूरन व सतावर की खेती से कम लागत में अधिक उत्पादन के अनुभवो के बारे में जानकारी दी।

इसी प्रकार बंसत लाल विंध्य व पशुपालन क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले हौसला प्रसाद, राजेन्द्र यादव, गोपाल सिंह, राकेश, गगन सिंह, श्याम लाल मौर्या, सुनील पाण्डेय सहित अन्य किसानो के द्वारा कुकुक्ट पालन, पशुपालन से होने वाले आमदनी व अपने अनुभवो के बारे में जानकारी दी गयी। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी श्री यू0पी0 सिंह, मुख्य राजस्व अधिकारी हरि शंकर यादव उप निदेशक कृषि डा0 अशोक कुमार उपाध्याय, जिला कृषि अधिकारी श्री पवन कुमार प्रजाप्रति, जिला उद्यान अधिकारी मेवा राम के अलावा अन्य सभी सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहें।

Related posts

Mirzapur : सामूहिक वंदे मातरम् गान 16 को 

Khula Sach

Mumbai : नहीं रहे बॉलीवुड के मशहूर संवाद लेखक सुबोध चोपड़ा 

Khula Sach

अमेरिकी ट्रेजरी यील्ड बढ़ने से सोने की कीमतों पर पड़ा असर

Khula Sach

Leave a Comment