Khula Sach
खेलताज़ा खबर

टीईजीसी 2023 के 10वें संस्‍करण की वापसी, भारत के नये ईस्‍पोर्ट्स चैम्पियंस को पहनाया जाएगा ताज

मुंबई : मजेदार, बेहतरीन और भविष्‍यवादी ताइवान एक्‍सीलेंस गेमिंग कप (टीईजीसी) 2023 ने ईस्‍पोर्ट्स के नये चैम्पियंस की खोज के लिये अपनी पूरी शान के साथ भारत में वापसी की है।

टीईजीसी भारत में सबसे लंबी चलने वाली ईस्‍पोर्ट्स चैम्पियनशिप है, जिसके 2023 में 10 साल पूरे हो जाएंगे। और बेहद मांग में रहने वाली इस चैम्पियनशिप का जश्‍न ज्‍यादा बड़ा, बेहतर और दमदार होने का वादा कर रहा है।

12 सितंबर को ताइवान एक्‍सीलेंस (टीई) ने फोर सीजन्‍स, वर्ली मुंबई में आयोजित एक विशेष प्रेस वार्ता में बेहद इच्छित इस चैम्पियनशिप के एलिमिनेशन रांड्स, ग्रैण्‍ड फिनाले और दूसरे रोचक पहलूओं का विवरण दिया।

इस साल का आयोजन पहली बार भारत के सभी भूतपूर्व टीईजीसी चैम्पियंस को एक मंच पर साथ लेकर आएगा। टीईजीसी ने इस इवेंट को लाइवस्‍ट्रीम करने के लिये टेक्‍नोलॉजी के प्रमुख इंफ्लूएंसर्स को भी लिया है और यह टीई यूट्यूब चैनल पर उपलब्‍ध होगा। इवेंट के दौरान एक नई वेबसाइट का अनावरण हुआ, जो गेमर्स के लिये टीईजीसी का रजिस्‍ट्रेशन शुरू होने का संकेत है। फिनाले में जीतने लिये कई दिलचस्‍प इनाम होंगे।

ईस्‍पोर्ट्स में महिलाओं का बड़ा योगदान देखते हुए, टीईजीसी ने भारत की टॉप 10 महिला गेमर्स के बीच एक दिलचस्‍प प्रतियोगिता के लिये अपनी योजनाएं भी बताईं। यह मुकाबला नवंबर में होने जा रहे टीईजीसी ग्रैण्‍ड फिनाले के साथ-साथ होगा।

टीईजीसी 2023 को कॉलेज और गेमिंग के कई फेस्टिवल्‍स में भी प्रचारित किया जाएगा, जहाँ आगंतुकों को फेस्टिवल के दौरान ताइवान में बने उत्‍पादों का हाथों-हाथ अनुभव मिलेगा। एक अन्‍य पहल में, सतत विकास लक्ष्‍यों (एसडीजी) के हिस्‍से के तौर पर टीईजीसी और वंचित बच्‍चों के लिये काम कर रहे एक एनजीओ का गठजोड़ होगा। इस गठजोड़ से बच्‍चे मस्‍ती से भरा एक दिन बिताएंगे और एज्‍युकेशनल गेम्‍स खेलते हुए प्रभावशाली गेमर्स के साथ बातचीत करेंगे और अपने सर्वांगीण विकास के लिये खेलों का महत्‍व समझेंगे।

बीते सालों में टीईजीसी ने भारत में ई-स्‍पोर्ट्स का उत्‍साह रखने वाले कई लोगों के गेमिंग में कॅरियर लॉन्‍च करने में मदद की है। टीईजीसी के कई चैम्पियंस और भाग लेने वालों ने गेमिंग के अंतर्राष्‍ट्रीय आयोजनों में भारत का प्रतिनिधित्‍व किया है और देश के लिये प्रतिष्‍ठा हासिल की है।

मोर्डोर इंटेलिजेंस की एक रिपोर्ट का आकलन है कि भारत का गेमिंग बाजार 2023 के 3.02 बिलियन अमेरिकी डॉलर से बढ़कर 2028 तक 6.26 बिलियन अमेरिकी डॉलर का हो जाएगा। इस अवधि में सीएजीआर 15.68% रहेगी।

टीईजीसी के 10वें एडिशन के लॉन्‍च पर मुंबई में ताइपेई वर्ल्‍ड ट्रेड सेंटर लायज़न ऑफिस (टीएआईटीआरए-मुंबई) के निदेशक श्री पोयि एडिसन ह्सु ने कहा, “ईस्‍पोर्ट्स का मतलब सिर्फ गेमिंग से नहीं है, यह एक जुनून है, एक कॅरियर है और इस देश के सबसे बेहतरीन में से कुछ दिमागों के लिये जीने का एक तरीका है।”

श्री एडिसन ने कहा, “अपने डेब्‍यू में भाग लेने वालों की 500 संख्‍या के बाद टीईजीसी ने लंबा सफर तय किया है और 10वें एडिशन में भारत के 25000 से ज्‍यादा नये गेमर्स के भाग लेने की उम्‍मीद है, जो कि चैम्पियन बनने के लिये मुकाबला करेंगे।”

टीईजीसी के 10वें संस्‍करण को ‘ज्‍यादा खास’ बताते हुए, उन्‍होंने आगे कहा, “टीईजीसी के 10 साल पूरे होने का जश्‍न मनाने के लिये ग्रैण्‍ड फिनाले में टीईजीसी के सभी भूतपूर्व चैम्पियंस एक मंच पर होंगे। पहली बार, टीईजीसी के फिनाले में ईस्‍पोर्ट्स में महिलाओं की ताकत को मानने वाला एक खास इवेंट होगा और भारत की टॉप 10 महिला गेमर्स गेमिंग में अपना कौशल दिखाएंगी।”

देश में ईस्‍पोर्ट्स के भविष्‍य पर अपनी बात रखते हुए, श्री एडिसन ने कहा, ‘’भारत का डेमोग्राफिक फायदा, आईटी के लिये बढ़ रहा बुनियादी ढांचा और उसके परिणाम में इंटरनेट तथा स्‍मार्टफोन की बढ़ती पहुँच गेमिंग उद्योग के भविष्‍य के लिये अच्‍छा शगुन है।”

यह आयोजन गेमर्स और आगंतुकों को ताइवान की अद्भुत गेमिंग टेक्‍नोलॉजी और गैजेट्स का गहन अनुभव लेने का मौका भी देता है। इवेंट के दौरान अग्रणी ब्राण्‍ड्स, जैसे कि एयोरस, एरोमैस, साइबरपावर, डी-लिंक, एमएसआई, प्रीडैटर, रिपब्लिक ऑफ गेमर्स, थर्मलटेक, विक्‍टर और जि़क्‍सेल, आदि ने अपने सबसे अच्‍छे उत्‍पादों का प्रदर्शन किया।

किसी भी जानकारी के लिये कृपया ऑफिशियल वेबसाइट https://tegamingcup.in/ को विजिट करें।

Related posts

सोनी सब के ‘बालवीर रिटर्न्स्’ में घातक तिकड़ी के बनने से दिखाई देगा खौफ का नया रूप 

Khula Sach

नरोत्तम शेखसरिया फाउंडेशन ने “प्रोजेक्ट इग्नाइट” की लॉन्‍च की घोषणा की

Khula Sach

तीसरी आंख : सेवानिवृत्ति के मुहाने पर खड़े वर्ष 2021 की सेवा-पंजिका में उत्कृष्ट-सेवा तो दर्ज होगी ही

Khula Sach

Leave a Comment