Khula Sach
ताज़ा खबरदेश-विदेशधर्म एवं आस्थाराज्य

इच्छापूर्ति भगवान विश्वकर्मा मंदिर का स्थापना-दिवस महोत्सव बड़े ही धूमधाम से हुआ संपन्न

मुंबई : माया नगरी मुंबई स्थित विश्वकर्मा समाज की सबसे पुरानी संस्था – भारतीय श्री विश्वकर्मा कल्याण समाज अंधेरी द्वारा आज इच्छापूर्ति भगवान विश्वकर्मा मंदिर का स्थापना-दिवस बड़े ही धूमधाम से मनाया गया, जिसमें समाज के प्रमुख लोगो का आगमन हुआ।

जिसमें प्रमुखतः दहिसर से वरिष्ठ समाजसेवी रामा विश्वकर्मा, मीरा रोड से पत्रकार राकेश विश्वकर्मा, विश्वकर्मा समिति कालीना से बाबूलाल विश्वकर्मा, पत्रकार गणेश विश्वकर्मा, बोइसर से प्रमोद विश्वकर्मा, विश्वकर्मा महासभा महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष रमाशंकर विश्वकर्मा, दिवा से बिल्डर सचिन विश्वकर्मा, डोम्बिवली से समाजसेवी रामकेवल विश्वकर्मा, वाकोला सांताक्रूज़ के नवजीवन सेवा समिति से लालसाहब विश्वकर्मा, कांदिवली से वरिष्ठ समाजसेवी लालजी विश्वकर्मा, गोरेगाव विश्वकर्मा समिति से संतलाल विश्वकर्मा, पूर्व प्रधानाध्यापक लालचंद विश्वकर्मा का आगमन हुआ।

राष्ट्रवादी जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष – बृजेशकुमार विश्वकर्मा, राष्ट्रीय महामंत्री – राधेश्याम विश्वकर्मा व डॉ. कृष्णकुमार विश्वकर्मा, कांग्रेस के पूर्व-सांसद संजय निरुपम, शिवसेना से विधायक – ऋतुजा रमेश लटके, शिवसेना के पूर्व-नगरसेवक मनोहर पांचाल, भाजपा की नगरसेवक – संध्या यादव, पूर्व उप-महापौर राजेश शर्मा व अन्य सामाजिक व राजनैतिक महानुभावो का इस कार्यक्रम में उपस्थिति हुई तथा भारी संख्या में समाज के लोग सम्मिलित हुए।

इस अवसर पर मंदिर में सुबह से ही पूजा-हवन इत्यादि कार्यक्रम के साथ ही शाम को रंगारंग गीत-संगीत व अतिथि सत्कार किया गया और उपस्थित सभी लोगो ने महाप्रसाद ग्रहण किया। संस्था के अध्यक्ष – रमेश विश्वकर्मा, महामंत्री – अरविन्द विश्वकर्मा व कोषाध्यक्ष – मोहनलाल विश्वकर्मा द्वारा अतिथि सत्कार किया गया।

इस कार्यक्रम में मंच-संचालन संस्था के पूर्व महामंत्री व वरिष्ठ मार्गदर्शक – डॉ. कृष्णकुमार विश्वकर्मा ने किया। संस्था के पूर्व कोषाध्यक्ष व वरिष्ठ मार्गदर्शक – रामचंद्र विश्वकर्मा व सभी उप-पदाधिकारियों द्वारा सुव्यवस्थित भंडारा व अन्य कार्य किये गए।

संस्था के पूर्व अध्यक्ष व प्रमुख मार्गदर्शक – राधेश्याम विश्वकर्मा द्वारा इस कार्यक्रम की रुपरेखा, मंच की व्यवस्था व अतिथि सत्कार की व्यवस्था को बखूबी अंजाम दिया गया। समाज को सम्बोधित करते हुए सभी आगंतुको का आभार व्यक्त किये। भविष्य में समाज के प्रति समर्पित रहकर निरंतर समाजसेवा व मानवसेवा करते रहने का संकल्प लिया।

Related posts

पॉजिटिव लाभ के साथ बंद हुए सूचकांक

Khula Sach

“वक्त ही तो है …”

Khula Sach

अपने बच्चों के साथ सेलिब्रेटी मांओंका खास रिश्ता

Khula Sach

Leave a Comment