Khula Sach
कारोबारताज़ा खबरदेश-विदेश

घर खरीदने के लिए ठाणे वेस्ट, मीरा रोड ईस्ट सबसे पसंदीदा स्थान: हाऊसिंग डॉटकॉम

1-2 करोड़ रुपये की कीमत वाले नए घर और अपार्टमेंट्स की बढ़ी मांग 

मुंबई : हाऊसिंगडॉटकॉम के मुताबिक वर्ष 2022 में घर खरीद के बारे में मुंबई के ठाणे पश्चिम में सबसे ज्यादा सर्च किया गया। इसके बाद सर्च में बेंगलुरू के व्हाइटफ़ील्ड और दिल्ली-एनसीआर में नोएडा एक्सटेंशन का स्थान रहा।

प्रॉपर्टी सर्च के लिए देश के प्रमुख प्लेटफॉर्म हाऊसिंगडॉटकॉम ने अपनी नवीनतम रिपोर्ट में कैलेंडर वर्ष 2022 के दौरान अपने प्लेटफॉर्म पर विजिटर की गतिविधियों का विश्लेषण किया है। रिसर्चके अनुसार, हाऊसिंगडॉटकॉम पर आवासीय संपत्तियों की खोज के मामले में, कोलकाता में न्यू टाउन और मुंबई में मीरा रोड ईस्ट क्रमशः चौथे और पांचवें स्थान पर थे। अहमदाबाद में चांदखेड़ा 6ठें स्थान पर रहा। उसके बाद पुणे में वकाड, नवी मुंबई में खारघर और अहमदाबाद में गोटा और वस्त्रल का स्थान रहा।

हाऊसिंगडॉटकॉम के शोध से यह भी पता चला है कि 2022 में 1-2 करोड़ रुपये की आवासीय संपत्तियों की खोज में सालाना 24 प्रतिशत की वृद्धि हुई। इसके अलावा, घर खरीदारों ने पिछले वर्ष की तुलना में 2022 में 52 प्रतिशत की वृद्धि के साथ नए अपार्टमेंट की खोज की। 2022 में रीसेल वाली संपत्तियों के लिए पूछताछ में 2% की गिरावट दर्ज की गई। वहीं 3 बीएचके और उससे ऊपर की कीमत वाली संपत्तियों की ऑनलाइन खोज में 2022 में 1.4 गुना की वृद्धि हुई।

हाऊसिंगडॉटकॉम, प्रोपटाइगरडॉटकॉम और मकानडॉटकॉम के ग्रुप सीईओ ध्रुव अगरवाल ने कहा, “हमारी नवीनतम रिपोर्ट में सामने आए रुझानों के आधार पर, मैं भारतीय आवासीय रियल एस्टेट बाजार के भविष्य को लेकर आशावादी हूं। हम उम्मीद करते हैं कि शीर्ष सूक्ष्म बाजारों में आवास की मांग मजबूत बनी रहेगी, और हम 1 करोड़ रुपये से दो करोड़ रुपये की कीमत वाले नए अपार्टमेंट और संपत्तियों में बढ़ती रुचि देख रहे हैं। हम टियर 2 शहरों में भी काफी संभावनाएं देखते हैं, जहां स्वतंत्र घरों की तुलना में अपार्टमेंट के लिए ऑनलाइन संपत्ति की खोज तेज गति से बढ़ रही है। यह इन शहरों में घर खरीदारों की जरूरतों को पूरा करने के लिए डिवेलपर्स और रियल एस्टेट एजेंट्स के लिए एक महत्वपूर्ण अवसर प्रस्तुत करता है।”

श्री अगरवाल ने आगे कहा, “पिछले एक साल में ब्याज दरों में बढ़ोतरी के बावजूद आवासीय संपत्तियों की बिक्री इस तिमाही के दौरान भी मजबूत बनी हुई है। कुल मिलाकर, मैं भारतीय आवासीय रियल एस्टेट बाजार के भविष्य को लेकर आशान्वित हूं और मेरा मानना है कि आने वाले वर्षों में शहरीकरण, खर्च करने योग्य बढ़ती आय और अनुकूल सरकारी नीतियों जैसे कारकों से उद्योग की वृद्धि जारी रहेगी।”

हाऊसिंगडॉटकॉम के मुताबिक, इसके प्लेटफॉर्म (वेबसाइट और मोबाइल ऐप) पर कुल खोजों में से 60 प्रतिशत ग्राहक आवासीय संपत्ति खरीदना चाह रहे थे, जबकि शेष 40 प्रतिशत किराए पर संपत्ति लेना चाहते थे। खरीदने के लिए, महत्वपूर्ण रेंज 50 लाख रुपये से कम के अपार्टमेंट के लिए था, क्योंकि इस मूल्य वर्ग में अधिकतम सर्च दर्ज की गई।

आंकड़ों से यह भी पता चला है कि 2022 में घरों को किराए पर लेने के लिए ऑनलाइन प्रॉपर्टी सर्च वॉल्यूम में 1.5 गुना की बढ़ोतरी हुई। 2022 में घर किराए पर लेने के लिए किये गये सर्च और पूछताछ में बेंगलुरु, मुंबई और हैदराबाद की बड़ी हिस्सेदारी रही।

टियर 2 शहरों में, लखनऊ घर खरीदने के लिए शीर्ष शहर के रूप में उभर कर सामने आया। इसके बाद जयपुर और इंदौर का स्थान रहा। 2022 में 8% के मुकाबले अपार्टमेंट के लिए ऑनलाइन संपत्ति की खोज सालाना 23% की गति से बढ़ी। कुल मिलाकर, रिपोर्ट बताती है कि 2023 में इन सूक्ष्म बाजारों में आवास की मांग मजबूत रहेगी।

Related posts

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य मां विंध्यवासिनी के दरबार में पहुंचे

Khula Sach

Daily almanac & Daily Horoscope : आज का पंचांग व दैनिक राशिफल और ग्रहों की चाल 25 दिसंबर 2020

Khula Sach

संस्मरण : भूरा

Khula Sach

Leave a Comment