Khula Sach
अपराध राज्य

Meerut : पहले चाकुओं से गोदकर की मुंहबोले बहनोई की हत्या, फिर मुंहबोली बहन को मार डाला, बचाने आई 9 साल की बेटी को जमीन पर पटका

➡ आधी रात के बाद दम्पति की नृशंस हत्या, पत्नी के रिश्ते के भाई ने दी वारदात को अंजाम

➡ रात में मुंहबोली बहन के घर आया था घटना को अंजाम देने वाला भाई

मेरठ, (उ.प्र.) : के एक दंपति की उनके ही घर में चाकुओं से गोदकर निर्मम हत्या कर दी गई है. हत्या करने वाला महिला का मुंहबोला भाई था. रात में घर आया हत्यारोपी देर होने का बहाना बनाकर रुक गया और आधी रात के बाद उसने वारदात को अंजाम दिया. अपने माता-पिता को बचाने आई दंपति की 9 साल की बेटी को भी हत्यारोपी ने जमीन पर पटककर मारा.

वारदात ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र के सिटी गार्डन इलाके की है. यहां आबाद अपनी पत्नी और 3 बच्चों के साथ रहते थे. आबाद की पत्नी जावेदा का मुंहबोला भाई समीर बीती रात बच्चों के लिए स्नेक्स, चॉकलेट और खाना लेकर आया. पूरे परिवार ने समीर के साथ डिनर किया और बातें करते हुए कई घंटे जब बीत गए तो समीर आबाद के घर में ही रुक गया. रात को करीब 2:30 बजे समीर ने अपने साथ सोये आबाद को दबोचा और लंबे फन वाले चाकू से उसका गला काट दिया. समीर ने आबाद के जिस्म पर चाकुओं के कई जानलेवा प्रहार किए.

आवाज की चीख सुनकर दूसरे कमरे में बच्चों के साथ सो रही जावेदा आबाद के कमरे में पहुंची तो पहले से सतर्क समीर में उसे भी दबोच लिया और चाकुओं से गोदकर उसे मार डाला. आबाद और जावेदा की 9 साल की बेटी की नींद खुल गयी और वह बेडरूम की ओर भागी. उसने समीर के हाथ में खून से सना चाकू और अपने माता-पिता को रक्तरंजित देखा तो उसने समीर का विरोध किया. समीर ने उसकी बुरी तरह पिटाई कर दी और उसे जमीन पर पटक दे मारा. इसके बाद समीर आसानी से घटनास्थल से फरार हो गया.

सनसनीखेज वारदात के बाद मौके पर पुलिस पहुंची और आबाद की बेटी से पूरी घटना की जानकारी ली. आबाद के बाकी दो बच्चे काफी छोटे हैं. एसएसपी प्रभाकर चौधरी, एसपी सिटी विनीत भटनागर ने मौका-ए-वारदात का निरीक्षण किया है. फॉरेंसिक टीम और साइबर एक्सपर्ट्स को मौके पर भेजा गया और घटनास्थल से वारदात के सबूत जुटाए गए हैं.

सूत्रों के मुताबिक पूरी वारदात के पीछे अवैध संबंधों का एंगल हो सकता है. समीर जावेदा का सगा भाई नहीं है. वह कंकरखेड़ा में रहता है और कुछ महीनों पहले से ही आबाद और जावेदा के घर उसका आना शुरू हुआ था. पुलिस की मानें तो अभी तक हत्याकांड का मकसद स्पष्ट नहीं है लेकिन इस बात से भी इंकार नहीं किया जा सकता कि अवैध संबंध के अलावा कोई और रंजिश हत्याकांड के पीछे हो सकती है. आबाद की पहली पत्नी की कुछ बरस पहले बीमारी से मौत हो गई थी जिसके बाद आबाद ने जावेदा से दूसरी शादी की थी. जावेदा और आबाद की उम्र में करीब 14 साल का अंतर है.

मेरठ के एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि वारदात को अंजाम देने के बाद समीर मौके से फरार हो गया है. पुलिस की टीमें उसकी गिरफ्तारी के लिए लगाई गई हैं. मौके से हत्याकांड के सबूत जुटाए गए हैं और शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है. पुलिस पूरे मामले की गहनता से जांच जारी रखे हुए हैं.

Related posts

Mirzapur : कोविड काल में अनाथ हुए बच्चों की पहचान सार्वजनिक करने पर बाल आयोग गंभीर

Khula Sach

बच्चे को टीकाकरण के समय जरूर पिलाएं विटामिन ए, कोरोना से लड़ने में मिलेगी मदद

Khula Sach

सावधान… साइबर ठगों की सक्रियता बढ़ी, रोजाना अनेकों लोग हो रहें हैं ठगी का शिकार

Khula Sach

Leave a Comment