Khula Sach
कारोबारताज़ा खबरदेश-विदेशराज्य

देश के सबसे बड़े रीजनल पीआर अवॉर्ड्स शो- इंडियाज़ रीजनल पीआर अवॉर्ड्स 2022 ने 40 होनहार पीआर प्रोफेशनल्स को दी नई पहचान

19 नवंबर, 2022 को इंदिरा गाँधी जयंती के मौके पर आयोजित किया गया पैनल डिस्कशन और अवॉर्ड सेरेमनी

  • 8 प्रमुख श्रेणियों में हुआ 40 वर्ष से कम की आयु के 40 विजेताओं का चयन
  • 10 वरिष्ठ जूरी मेंबर्स की मौजूदगी में पैनल डिस्कशन
  • 186 रजिस्ट्रेशन्स, 76 केस स्टडीज़, 17 राज्य और 40 विजेताओं ने बढ़ाया अवॉर्ड्स शो का मान

इंदौर : भारत के सबसे तेजी से बढ़ते सोशल ऑनलाइन प्लेटफॉर्म, ट्रूपल डॉट कॉम (Troopel.com) द्वारा 19 नवंबर, 2022, शनिवार को इंदिरा गाँधी जयंती के मौके पर इंडियाज़ ‍रीजनल पीआर अवॉर्ड्स 2022, 40 अंडर 40 के दूसरे संस्करण का सफल समापन किया गया।

देश के सबसे बड़े रीजनल पीआर अवॉर्ड्स शो का उद्देश्य सबसे होनहार ‍रीजनल पीआर प्रोफेशनल्स की पहचान कर उन्हें सम्मानित करना है, जिसके दूसरे संस्करण में पीआर क्षेत्र के होनहारों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। 20 सितंबर से शुरू हुए इस शो के तहत देश के 17 राज्यों से 186 रजिस्ट्रेशन्स और 76 केस स्टडीज़ प्राप्त हुईं, जिस पर गहनता से कार्य कर जूरी के 10 वरिष्ठ मेंबर्स द्वारा 40 वर्ष से कम की आयु के 40 विजेताओं को सम्मानित किया गया। पवन त्रिपाठी, ऑर्गेनाइज़र, IRPRA कहते हैं, सभी 40 विजेता रीजनल पीआर क्षेत्र में कई वर्षों का अनुभव रखते हैं और ये अवॉर्ड शो काम के प्रति उनकी मेहनत, निरंतरता और प्रोफेशनलिज्म को रिकॉग्नाइज करने का सर्वश्रेष्ठ माध्यम बनकर उभरा है। अपने दूसरे सफल एडिशन के साथ, हमारी कोशिश है कि IRPRA इंडस्ट्री के सबसे विश्वशनीय अवार्ड फंक्शन की श्रेणी में अपना स्थान सुनिश्चित करे।

पीआर सेक्टर के दिग्गज प्रोफेशनल्स से मिली सराहना व सहयोग के लिए हम आभारी हैं, जो हमें इस बहुप्रतीक्षित अवार्ड फंक्शन को अपने हर एडिशन के साथ और अधिक बेहतर करने के लिए प्रेरित करता है। रोहित सिंह चंदेल, चैनल हेड, ट्रूपल डॉट कॉम कहते हैं, देश के पहले रीजनल पीआर अवॉर्ड्स के दूसरे संस्करण को आयोजित करना हमारे लिए बेहद गर्व का विषय है। मैं सभी जूरी मेंबर्स को तहे-दिल से धन्यवाद् देना चाहता हूँ कि उन्होंने इसे सफलतम बनाने में अपना विशेष योगदान दिया। वर्षों से रीजनल पीआर की शोभा बढ़ा रहे सभी 40 विजेता बधाई के पात्र हैं।

IRPRA के ताज से 40 वर्ष से कम उम्र के 40 पीआर प्रोफेशनल्स को पाँच जोन्स- ईस्ट, वेस्ट, नॉर्थ, साउथ और सेंट्रल में विभाजित कुल 8 श्रेणियों के अंतर्गत नवाज़ा गया, जो इस प्रकार हैं:

1. अवॉर्ड फॉर एक्सीलेंस इन सीएसआर: अभिषेक सिंघानिया, वेस्ट बंगाल; अनुभूति श्रीवास्तव, छत्तीसगढ़; अत्रिदेव मिश्रा, वेस्ट बंगाल; जॉय संगीता, तमिल नाडु और राम प्रसाद, छत्तीसगढ़।

2. अवॉर्ड फॉर द बेस्ट क्रिएटिव एंटरटेनमेंट कैंपेन: आनंद प्रकाश, दिल्ली; ओजस्वी शर्मा, पंजाब; सपना ढोले, मध्य प्रदेश; शितांशु दीक्षित, महाराष्ट्र और स्वाति चक्रवर्ती, वेस्ट बंगाल।

3. लीडिंग पीआर क्रिएटिव कैंपेन फॉर बिज़नेस: ब्रह्म शंकर सिंह, उत्तर प्रदेश; हरीश शर्मा, पंजाब; महेश्वर राव जी वी, तेलंगाना; नाधिया माली, महाराष्ट्र; प्रशांत बक्षी, गुजरात; सौरव चक्रवर्ती, गुजरात; स्तुति सिंह, दिल्ली और शुभांकर बनर्जी, असम।

4. लीडिंग पीआर कैंपेन फॉर स्टार्टअप्स कैटेगरी: प्रिन्सी शर्मा, उत्तर प्रदेश; अंशुमा शर्मा, उत्तर प्रदेश; बिजयिता त्रिपाठी, ओडिशा; दिव्याभ सिंह, दिल्ली; हरी शंकर बी, केरला और नेहा अय्यर, कर्नाटक।

5. बेस्ट पीआर कैंपेन फॉर क्राइसिस कम्युनिकेशन्स: अंकुज राणा, झारखण्ड और दीपक चड्ढा, उत्तर प्रदेश।

6. एक्सीलेंस इन लोकल ब्रांड पीआर कैंपेन: अबरीति सेन, वेस्ट बंगाल; चहक रोड़ा, दिल्ली; चिदांश चौधरी, राजस्थान; दुर्गा समल, ओडिशा; हमद बरलष्कर, असम; फूल हसन, मध्य प्रदेश और रिचांक तिवारी, दिल्ली।

7. एक्सीलेंस इन रूरल एरिया पीआर कैंपेन: शिल्पी सक्सेना, उत्तराखंड; शिवानी ठाकुर गुप्ता, जम्मू और कश्मीर और कृष्णा त्रिवेदी, गुजरात। 8. एक्सीलेंस इन पी.एस.यू./ गवर्नमेंट पीआर कैंपेन: रिचय एलेग्जेंडर, केरला; आयुष माथुर, दिल्ली; दिव्या बत्रा, बिहार और नेहा योगेंद्र सिंह, उत्तर प्रदेश। गौरतलब है कि IRPRA 2022 के दूसरे संस्करण के नॉमिनेशन्स का आगाज़ 20 सितंबर, 2022 से हुआ था, जिसके रजिस्ट्रेशन्स पूर्णतया निःशुल्क रहे।

40 वर्ष से कम उम्र के भारत के रीजनल क्षेत्र में पीआर से जुड़े प्रोफेशनल्स द्वारा बड़ी मात्रा में आवेदन प्राप्त हुए, जिनमें से सर्वश्रेष्ठ 40 पीआर को विजेता की उपाधि से सम्मानित किया गया।

Related posts

Mirzapur : ब्लॉक स्तर से “नौकरी संवाद अभियान” की शुरुआत

Khula Sach

ग्वालियर : विभागस्तरीय एकल भजन प्रतियोगिता का ऑनलाइन किया गया आयोजन

Khula Sach

कविता : “ओ कोरोना तू कहाँ से आया”

Khula Sach

Leave a Comment