Khula Sach
अपना प्रदेश ताज़ा खबर मीरजापुर

Mirzapur : प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के साथ ही नौ अप्रैल को मनेगा विशेष अंतरा दिवस

रिपोर्ट : तपेश विश्वकर्मा

मिर्जापुर, (उ.प्र.) : परिवार नियोजन कार्यक्रम को गति देने के लिए जनपद के मंडलीय चिकित्सालय समेत 9 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र 45 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र समेत 216 उपस्वास्थ्य केन्द्रों पर नौ अप्रैल को विशेष अंतरा दिवस का आयोजन किया जायेगा।

मुख्य चिकित्साधिकारी डाक्टर प्रभु दयाल गुप्ता ने बताया कि जिले के मौजूद सभी केन्द्रों पर प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के अवसर विशेष अंतरा दिवस का आयोजन किया जायेगा। इसके लिए सभी केन्द्रों के प्रभारी चिकित्साधिकारियों व स्वास्थ्य कर्मियों को पत्र के द्वारा अवगत करा दिया गया है। ईच्छुक महिलाओं को अंतरा इंजेक्शन से लाभान्वित किया जायेगा। कोरोना के समय में परिवार नियोजन को गति देने के ही उद्देश्य से इस अवसर पर अंतरा दिवस का आयोजन किया जा रहा है। इस अवसर पर सभी केन्द्रों पर आने वाली महिलाओं को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करके इंजेक्शन के लाभ को पहुंचाना है।यह जिले के मंडलीय चिकित्सालय समेत 9 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र 45 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र समेत 216 उपस्वास्थ्य केन्द्रों पर किया जायेगा।

परिवार नियोजन के नोडल अधिकारी डाक्टर आर0एस0राम ने बताया कि इस अवसर पर महिलाओं को बताया जायेगा कि अनचाहे गर्भ से बचने के लिए कई दवाओं को खोजा गया है। इसमें अंतरा इंजेक्शन से बच्चों में अन्तर रखना सबसे सरल उपाय है। यह इंजेक्शन तीन माह में एक बार ही डाक्टरों के परामर्श के बाद लगाया जाता है।

उन्होंने बताया कि अंतराकेयर लाइन 18001033044 के माध्यम से महिलायें व नवदम्पत्ति इससे आसानी से जुड़ सकती है। अंतरा इंजेक्शन का प्रयोग करने वाली महिलाओं के मन में कई तरह के सवाल उठते है, जो किसी के साथ बात करने में संकोच करती है। ऐसी स्थिति में ऐसे टोल फ्री नम्बर से बड़ी आसानी से अपने हर सवाल का जवाब घर बैठे ही ले सकती है। नंबर पर बात करने से हर समस्या का उचित समाधान मिल जाता है। अंतरा का पहला इंजेक्शन लगवाने के बाद ही महिला का रजिस्टर्ड होना अत्यन्त आवश्यक है ताकि महिला को समय-समय पर इंजेक्शन सम्बन्धी परामर्श मिलता रहे। टोल फ्री पर की गई बाते गोपनीय रखी जाती है। इस टोल फ्री की सुविधा सुबह 8 बजे से रात 9 बजे तक सुविधा उपलब्ध है अभी तक जिले में अप्रैल 2020 से मार्च 2021 तक 1854 महिलाओं ने इस इंजेक्शन का लाभ उठाया है।

इंजेक्शन लगवाने का उपयुक्त समय

  • नव विवाहित दम्पत्ति इस इंजेक्शन को लगवाने का उपयुक्त समय होता है।
  • प्रसव के बाद स्तनपान कराने वाली महिला या प्रसव होने के 6 सप्ताह बाद का समय सही होता है।

पहला इंजेक्शन लगाने का उपयुक्त समय

  • माहवारी शुरू होने के 7 दिन के अन्दर
  • प्रसव होने के 6 सप्ताह बाद
  • गर्भपात होने के बाद तुरन्त या 7 दिन के अन्दर

अंतरा इंजेक्शन का लाभ

  • महिला की गोपनीयता को सुनिश्चित करता है।
  • माहवारी में होने वाले ऐंठन को भी कम करता है।
  • माहवारी के दौरान खून कम निकलता है जिससे एनीमिया रोकने में मदद मिलती है।

Related posts

क्विक हील ने वित्त वर्ष 2021 में मजबूत वृद्धि दर्ज की

Khula Sach

कविता : मेरे दोस्त ..

Khula Sach

Mumbai : राजस्थानी समाज द्वारा पधारों म्हारे देश कार्यक्रम का सफल आयोजन सम्पन्न

Khula Sach

Leave a Comment