Khula Sach
ताज़ा खबरदेश-विदेशराज्य

दिल्ली : कूड़ा उठाने के नाम पर एक बड़ा घोटाला : विजेंद्र यादव

रिपोर्ट : ऋषि तिवारी

नई दिल्ली: दिल्ली नगर निगम के स्टैंडिंग कमेटी के पूर्व डिप्टी चेयरमैन विजेंद्र यादव ने आप पार्टी की जमकर हमला बोला है और कहा है कि जब से दिल्ली नगर निगम में आम आदमी पार्टी की सरकार बनी है, तब से दिल्ली की सड़कों पर कूड़े ही कूड़े नजर आ रहे है।

दिल्ली में आये दिन गंदगी फैलता जा रहा है

दिल्ली में करीब 400 से ज्यादा जगहों पर कम्पेक्टर ट्रांसफर स्टेशन लगे होने के बाद भी आज सभी बंद पड़े है और देखा जाए तो कईओं में ताले लगा दिये गए है। दिल्ली की सफाई के लिए कंपनियों ने कम्पेक्टर मशीन लगाए थे, लेकिन अब दिल्ली में ना ही सफाई हो पा रही है। जिससे दिल्ली वाले कहीं भी कूड़ा फेकने के लिए मजबूर भी होते नजर आ रहे है। जिससे आये दिन दिल्ली में गंदगी फैल रही है।

आप पार्टी के राज में ज्यादातर कम्पेक्टर ट्रांसफर स्टेशनों में लगा जंग

दिल्ली के सभी वार्डों में कूड़ा डालने के लिए ढलाव घर बने हुए थे और उनमें एमसीडी की छोटी गाड़ियां घरों से कूड़ा लाकर ढलाव घर में डालती थी। उसके बाद ये कूड़ा लोडर ट्रक में भरकर लैंडफिल साइट पर भिजवा दिया जाता था। जिससे सभी ढलाव घरों की सफाई होती थी लेकिन बाद में कम्पेक्टर ट्रांसफर मशीनें लगाई गई। मशीन में कूड़े को कंप्रेस कर एक जगह इकट्ठा किया जाने लगा और सीधा उसको लोडर में डालकर उसे लैंडफिल साइट पर ले जाया जाता था। अब दिल्ली में ज्यादातर कम्पेक्टर ट्रांसफर स्टेशनों में जंग लग गई है। कई में ताले लगे हुए हैं। इसका जिम्मेदार कौन है? जब से आम आदमी पार्टी की सरकार दिल्ली नगर निगम में आई है, सड़कों पर कूड़ा ही कूड़ा है।

कम्पेक्टर स्टेशनों के सामने लगा कूड़े का अंबार

एमसीडी ने 360 करोड़ की लागत से कम्पेक्टर ट्रांसफर स्टेशन बनाए थे। कूड़ा उठाने के नाम पर इनमें ताले लगे हुए हैं जो कि अभी कम्पेक्टर स्टेशनों के सामने कूड़े के अंबार लग चुके है। इनमें से गीला कूड़ा और सूखे कूड़े की रिकवरी साइकिल करके रिपोर्ट केंद्र तक पहुंचनी थी। अब ये सब शेखचिल्ली के हसीन सपने के बराबर लग रहा है। पूर्व डिप्टी चेयरमैन ने कहा कि हमने कई जगह उनकी शिकायत की है, रिमाइंडर भी भेजे हैं। अब हम कोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं।

आप पार्टी की शह पर कई भ्रष्ट अधिकारी कर रहे है काम

दिल्ली नगर निगम में आप पार्टी की शहर पर कई भ्रष्ट अधिकारी भी काम कर रहे हैं, अगर इसकी जांच सही तरीके से हो तो यह एक बड़ा भ्रष्टाचार निकलकर सामने आ जायेगा। कोर्ट से अपील करेंगे कि कोर्ट के द्वारा एक कमिश्नर नियुक्त किया जाए जो कि इस पूरे मामले की जांच किया जा सकता है।

मेयर और दिल्ली नगर निगम के कमिश्नर से हमारी अपील की निष्पक्ष जांच करें

दिल्ली की मेयर और दिल्ली नगर निगम के कमिश्नर से हमारी अपील है कि इस मामले की निष्पक्ष जांच की जाए, क्योंकि इसमें एक बड़े भ्रष्टाचार की बू आ रही है। दिल्ली में कूड़ा उठाने के नाम पर एक बड़ा घोटाला चल रहा है। स्टैंडिंग कमेटी के पूर्व डिप्टी चेयरमैन के आरोपों में कितनी सच्चाई है यह जांच के बाद ही साफ हो पाएगा। यदि जांच में अधिकारी दोषी पाए जाते हैं तो उन पर दिल्ली की सफाई करने के नाम पर जो गड़बड़ियां चल रही है। सरकार को उन पर भी कार्रवाई करनी चाहिए।

Related posts

चर्चाओं के बीच : अभिनेत्री श्रद्धा रानी शर्मा

Khula Sach

Bhadohi : भाजपा (संगठन) बनाम भाजपा (निर्दलीय) की लडाई रोचक

Khula Sach

जब ग्रेसी सिंह अपनी भक्त के लिए असल जिन्दगी में बनीं संतोषी मां

Khula Sach

Leave a Comment