Khula Sach
ताज़ा खबरराज्य

अखिल भारतीय गोंड आदिवासी संघ के द्वारा धूमधाम से मनाया गया स्वाधीनता दिवस

रिपोर्ट : सोहन साह 

जमशेदपुर : अखिल भारतीय गोंड आदिवासी संघ की ओर से जमशेदपुर में 77 वां स्वतंत्रता दिवस मनाई गई एग्री को 9 नंबर रोड 16 नंबर क्वार्टर रामेश्वर जी के निवास स्थान पर अध्यक्षता श्री दिनेश साह जी के नेतृत्व में झंडा तोलन किया गया जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में समाज के मुख्य संरक्षक श्री रामानंद प्रसाद जी के द्वारा झंडोत्तोलन किया गया इसके बाद राष्ट्रीय गीत बच्चों ने किया जाना गाना मंगल अधिनायक जाया है भारत भाग्य विधाता गीत समाप्त होने के बाद इस मौके पर उन्होंने उन्होंने देश के बारे बहुत ही सारे बातें कहीं और साथ में समाज के लोगों को यह भी कहा कि यदि देश पर कभी भी कोई आपत्ती आजा तो हम गोंड जाति के लोग कभी पीठ नहीं दिखाएंगे यह हमेशा याद रखिएगा माता बहनों भाइयों एवं बच्चे बुढ़े सभी को कह देता हूं देश के खातिर अगर जान देनी पड़ी तो हम गोंड जाति के लोग जान दे देंगे और भी बहुत सारी बातें कहीं इसके साथ-साथ समाज को आगे बढ़ाने के लिए भी उन्होंने कहा है की हम लोग का जो गोंड समाज जो है और भी जो बचे हुए गोंड भाई और माताएं बहनों को भी जोड़ के रखना है और सभी को मिलाके रखना है यह कहकर‌ अपनी‌ वाणी को विराम दिया।

77वां स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष पर बहुत सारे लोग एकत्रित हो गए जिसमें महिलाओं भी काफी संख्या में आई थी जिसमें मौजूद हुए लोग जैसे हरि नारायण प्रसाद, मदन शाह, ललन शाह, मुन्नालाल, ह्रदयनंद, रामबचन ठाकुर, उमेश साह, शत्रुघ्न साह, दीपक शाह, समीर शाह, कमल देव प्रसाद, बॉबी साह, शिवम शाह, जनक लाल साह , महेश साह,और भी पुरुष मौजूद रहे साथ में महिला समिति से नीतू कुमारी ,अंजू देवी, मंजू देवी हीरा देवी, अबे ठाकुर, ज्योति कुमारी, चंपा देवी, निशा देवी, शोभा देवी, गुड़िया देवी अहिल्या देवी, गायत्री नेताम, सुनीता देवी, शांति देवी, सीता देवी, प्रभावती देवी , विद्यावती देवी ,कामेश्वर प्रसाद एवं सोहन साह, राकेश शाह, मुकेश शाह, जयप्रकाश गोंड भी उपस्थित रहे और भी बहुत सारे महिलाएं पुरुष बच्चे शामिल हुए झंडा रोहण में सभी लोगों को चाकलेट का वितरण किया गया कार्यक्रम बहुत ही अच्छी ढंग से रहा अंत में धन्यवाद ज्ञापन श्री रामेश्वर प्रसाद ने आए हुए मुख्य अतिथि को और साथ में सभी पुरुष, महिलाएं, बच्चे का धन्यवाद करके कार्यक्रम को समाप्त किया।

Related posts

Uttar Pradesh : लिटेररी वॉरियर्स ग्रुप ने मनाया ऑनलाइन रंगा रंग संगीत कार्यक्रम

Khula Sach

Mirzapur : साहित्यकार चुनारी लाल

Khula Sach

उत्तर भारतीयों ने चाय की चुस्कियों के बीच पुरानी यादों को किया ताजा

Khula Sach

Leave a Comment