Khula Sach
ताज़ा खबरदेश-विदेशराज्य

केरल: जी20 शेरपा बैठक में डिजिटल पब्लिक इंफ्रास्ट्रक्चर के जरिये वैश्विक चुनौतियों के समाधान पर हुई चर्चा

कुमारकोम (केरल) :  भारत के जी20 शेरपा अमिताभ कांत की अध्यक्षता में भारत की जी20 अध्यक्षता के अंतर्गत दूसरी शेरपा बैठक गुरुवार को केरल के खूबसूरत गांव कुमारकोम में शुरू हुई। शेरपा मीटिंग साइड इवेंट के दौरान समकालीन वैश्विक चुनौतियों के समाधान के साथ ही डिजिटल पब्लिक इंफ्रास्ट्रक्चर पर विस्तृत चर्चा हुई।

चार दिवसीय बैठक की शुरुआत दो उच्च स्तरीय सह- आयोजनों – डिजिटल पब्लिक इन्फ्रास्ट्रक्चर (डीपीआई) और हरित विकास – के साथ हुई। नैस्कॉम, बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन और डिजिटल इम्पैक्ट एलायंस (डीआईएएल) के साथ साझेदारी में आयोजित डिजिटल पब्लिक इंफ्रास्ट्रक्चर सह-आयोजन, सभी जी20 प्रतिनिधियों के लिए एक व्यापक डिजिटल अनुभव के साथ शुरू हुआ। डिजिटल सार्वजनिक अवसंरचना पर आधारित कार्यक्रम में सार्वजनिक और निजी सेवाओं के प्रभावशाली निष्पादन के लिए डिजिटल सार्वजनिक अवसंरचना के एक समेकित और प्रभावी क्रियान्वयन में भारत के अनुभव और नेतृत्व पर विचार-विमर्श हुआ।

इसके अलावा वैश्विक चुनौतियों और विकासोन्मुखी तथा समावेशी डीपीआई बनाने के अवसर पर पैनल चर्चा भी हुई। डीपीआई सह-आयोजन को दिग्गज आईटी कंपनी इंफोसिस टेक्नोलॉजीज लिमिटेड के सह-संस्थापक और अध्यक्ष नंदन नीलेकणी,  यूरोपीय संघ के आंतरिक बाजार के आयुक्त थिएरी ब्रेटन,  डिजिटल इम्पैक्ट एलायंस की प्रबंध निदेशक प्रिया वोरा  और एकस्टेप फाउंडेशन के सीटीओ प्रमोद वर्मा  द्वारा संबोधित किया गया। कार्यक्रम के दौरान नैसकॉम की अध्यक्ष देबजानी घोष और व्यापार जगत से जुड़े अन्य दिग्गजों ने स्टार्ट-अप इकोसिस्टम में डीपीआई की भूमिका पर अपने विचार प्रस्तुत किए।

इस कार्यक्रम के हिस्से के रूप में एक डिजिटल पब्लिक इंफ्रास्ट्रक्चर अनुभव क्षेत्र (एक्सपीरियंस जोन) भी स्थापित किया गया है। यह डिजिटल क्षेत्र डिजिटल सार्वजनिक अवसंरचना के इस्तेमाल से समाज को होने वाले फायदों और इस क्षेत्र की समस्याओं का समाधान करने की दिशा में देश की सफलता की कहानी का प्रदर्शन करने के लिए स्थापित किया गया है। इस संपूर्ण आयोजन के दौरान यह डिजिटल क्षेत्र विभिन्न डिजिटीकरण पहलों का भी प्रदर्शन करेगा। वहीं दूसरी ओर, हरित विकास पर कार्यक्रम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर समाज के लिए पर्यावरण को बेहतर बनाने की तत्काल आवश्यकता की पृष्ठभूमि में हो रहा है। यह कार्यक्रम सभी देशों के लिए कम कार्बन उत्सर्जन की जीवनशैली को समर्थन देता है। इसका उद्देश्य सतत वित्त को सुविधा प्रदान करने संबंधी जी20 के प्रयासों के अनुरूप काम करना तथा स्थानीय स्थिति के अनुसार मांग आधारित स्तरीय विकास को बढ़ावा देना है। अमिताभ कांत ने भारत के अलावा ट्रोइका में शामिल इंडोनेशिया और ब्राजील के साथ भी चर्चा का नेतृत्व किया। इसके साथ ही विभिन्न सत्रों में आयोजित होने वाली बैठकों में कांत जी20 शेरपाओं और जी20 सदस्यों के प्रतिनिधिमंडलों के प्रमुखों, उभरती बाजार अर्थव्यवस्थाओं (ईएमई) सहित अंतरराष्ट्रीय संगठनों के साथ ग्लोबल साउथ के साथ-साथ उन्नत अर्थव्यवस्थाओं (एई) से संबंधित मुद्दों और पारस्परिक रूप से लाभप्रद तरीकों पर साझा प्राथमिकताओं के बारे में भी विचार-विमर्श करेंगे। इस दौरान सितंबर 2023 में नई दिल्ली में होने वाले जी20 शिखर सम्मेलन से पहले विभिन्न शेरपा ट्रैक और वित्त ट्रैक बैठकों के सामने आ रहे परिणामों को आगे बढ़ाया जाएगा।

Related posts

Mirzapur : टीकाकरण एवं मास्क के लिए जिलाधिकारी ने की जनपदवासियों से अपील

Khula Sach

आइडियल जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने नेहा शर्मा को सौंपी राजस्थान की कमान

Khula Sach

Chattarpur : नृत्य समारोह की चौथी शाम ओडीसी युगल, सत्रीया समूह, और कत्थक के नाम रही 

Khula Sach

Leave a Comment