Khula Sach
अन्य ताज़ा खबर मनोरंजन

प्रिय मंजू जी : आप मेरी प्रेरणा हो

आपसे ही सीखा मैंने जिंदगी में आगे बढ़ना,
आपसे ही जाना मैंने औरों को समझना,
आपसे ही सीखा मैंने हर गमों में मुस्कुराना,
आपसे ही सीखा मैंने मुश्किलों में हालातों से लड़ना।

कितना भी गम हो आपको देख खुश हो जाती हूं,
जब तक आप नही आती विद्यालय में,
तबतक मेरी निगाहें आपको ही ढूंढा करती हैं,
न जाने किस जन्म का रिश्ता है आपसे जुड़ा,
एक पल भी दूर नहीं रह पाती हूं।

हर महिला के लिए आप एक प्रेरणा हो,
मेरे लिए तो आप मेरी साधना और प्रार्थना हों,
आपसे ही मिली प्रेरणा आपसे ही मिली समर्पण,
आपसे ही मिली मुझे जिंदगी में मेरी दर्पण।

आपसे ही सीखा मैंने बिखर कर और निखारना,
आपसे ही सीखा मैंने जिंदगी में फूलों की तरह खिलना,
आपसे ही सीखा मैंने हर एक रिश्ते पे अटूट विश्वास करना,
क्यूंकि आप मेरी जिंदगी का रौशनी हो, आप मेरी प्रेरणा हो।

 

 

 

मनीषा झा
विरार महाराष्ट्र

Related posts

Mirzapur : महाशिवरात्रि पर बाबा बदेवरानाथ धाम मे उमड़ी भक्तों को भीड़

Khula Sach

इंफीनिक्स ने नोट 10 प्रो और प्रीमियम नोट 10 पेश किया

Khula Sach

Noida : असहाय एवं जरुरतमन्द लोगों की मदद के लिये सदैव “साथी हाथ बढ़ाना” तत्पर

Khula Sach

Leave a Comment