Khula Sach
कारोबारताज़ा खबर

ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने तीसरी तिमाही परिणामों की घोषणा की

मुंबई : भारत की प्रमुख एकीकृत सप्लाई चेन और लॉजिस्टिक्स समाधान प्रदाता, ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड ने 31 दिसंबर 2022 को समाप्त तीसरी तिमाही के अपने वित्तीय परिणामों की घोषणा की।

एकल आधार पर: वित्त वर्ष 2022 की तीसरी तिमाही बनाम वित्त वर्ष 2023 की तीसरी तिमाही में कंपनी का परिचालन राजस्व 16% की सालाना वृद्धि के साथ 881 करोड़ रुपये रहा। एबिटा वित्त वर्ष 2022 की तीसरी तिमाही के 114 करोड़ रुपये के मुकाबले 138 करोड़ रुपये दर्ज किया गया। कंपनी का कर पश्चात लाभ (पीएटी) वित्त वर्ष 2022 की तीसरी तिमाही के 78 करोड़ रुपये के मुकाबले 95 करोड़ रुपये पहुंच गया और इसमें 22.9% की वृद्धि हुई।

वित्त वर्ष 2022 के 9 महीने बनाम वित्त वर्ष 2023 के 9 महीने में कंपनी का परिचालन राजस्व 20.5% की सालाना वृद्धि के साथ 2539 करोड़ रुपये रहा। एबिटा वित्त वर्ष 2022 के 9 महीने के 300 करोड़ रुपये के मुकाबले 352 करोड़ रुपये पहुंचा। कंपनी का कर पश्चात लाभ (पीएटी) वित्त वर्ष 2022 के 9 महीनों के 194 करोड़ रुपये के मुकाबले 18% की वृद्धि के साथ 229 करोड़ रुपये पहुंच गया।

समेकित आधार पर: वित्त वर्ष 2022 के 9 महीने बनाम वित्त वर्ष 2023 के 9 महीने में कंपनी का परिचालन राजस्व 18.8% की सालाना वृद्धि के साथ 2802 करोड़ रुपये रहा। एबिटा वित्त वर्ष 2022 के 9 महीनों के 320 करोड़ रुपये के मुकाबले 368 करोड़ रुपये दर्ज किया गया। कंपनी का कर पश्चात लाभ वित्त वर्ष 2022 के 9 महीनों के 206 करोड़ रुपये के मुकाबले 238 करोड़ रुपये रहा और इसमें 15.4% की वृद्धि दर्ज की गई।

टीसीआई के प्रबंध निदेशक विनीत अग्रवाल ने कहा, “वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में, कंपनी ने एक स्थिर वृहद आर्थिक स्थिति के बीच लगातार अच्‍छा प्रदर्शन किया है। हमारे सभी व्यावसायिक क्षेत्रों ने उम्मीद के मुताबिक संतोषजनक परिणाम दिए हैं।

महंगाई और ॠण की तंगी के बीच उद्योगव्यापी चुनौतियों पर हमारा एक संतुलित दृष्टिकोण है। हमें एक एकीकृत मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक समाधान संगठन बनाने के लिए अपने लक्ष्यों को हासिल करने का पूरा भरोसा है। टीसीआई में, हमारी मूल्य प्रणाली और हमारे लोग हमारे ग्राहकों की सफलता के केंद्र में हैं।”

Related posts

Assembly Elections 2022: भाजपा कराएगी यादव सम्मेलन और कई नए पुराने अपक्ष गन उजागर

Khula Sach

मैनकाइंड फार्मा का ओटीसी वर्ग में विस्तार

Khula Sach

Mirzapur : चार मासूम बेटियां अपने पिता के तपोवन से आने की जोह रही है बाट

Khula Sach

Leave a Comment