Khula Sach
ताज़ा खबर मीरजापुर राज्य

Mirzapur : खस्ता हाल सड़क बनी मुसीबतों का सबब, नागरिकों ने मंडलायुक्त व जिलाधिकारी को दिया पत्रक

रिपोर्ट : तपेश विश्वकर्मा 

मीरजापुर, (उ0प्र0) : बैरहवां चौराहा जंगी रोड से गोपालपुर, राजापुर, रानीबारी, बरईपुर, चिंतावनपुर व बनकट को जोड़ने मुख्य मार्ग विगत कई वर्षों से बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुका हैं की मार्ग पर आये दिन दुर्घटनाएं होती रहती है, जिसको लेकर कई बार नागरिकों द्वारा नाली व सड़क के निर्माण हेतु आवाज उठाई गयी किंतु अब तक इस पर ध्यान न देने से यहां बाशिन्दों का जीवन दुश्वार हो गया है।

सड़क की खस्ता हालत के चलते गोपालपुर, राजापुर, रानीबारी, बरईपुर, चिंतावनपुर व बनकट के लोग अत्यंत परेशान है। इसके चलते इलाके के लोगों ने बुधवार को मंडलायुक्त व जिलाधिकारी को अलग अलग पत्रक दिया। क्षेत्रीय लोगों का आरोप है कि लगभग 15 वर्षों से खराब सड़क के चलते इलाके के लोग बहुत परेशान हैं। जब भी लोगों को गांव से शहर आना होता है तो उनके माथे पर पसीना होता है, दिल में घबराहट होती है, जान जोखिम में होता है और हाथ पैर टूटने का डर हर वक्त बना रहता है।

स्थानीय लोगों का आरोप है कि कई बार जनप्रतिनिधियों से इस बाबत मांग रखी गई। मुख्यमंत्री हेल्प लाईन से लेकर ऐसा कोई भी जन प्रतिनिधि या अधिकारी नही होगा जिसका दरवाजा न खटखटाया गया हो, लेकिन आज तक समस्या का समाधान नहीं हो सका है। यहा तक कि गत लोक सभा चुनाव में स्थानीय लोगों ने चुनाव का बहिष्कार तक कर दिया था। मीडिया के माध्यम से जब इस बात की जानकारी तत्कालीन डीएम को हुई तो उन्होंने चुनाव बाद आवश्यक कार्यवाही की बात कह लोगों से चुनाव मे भाग लेने की अपील की तो लोग मान गये। चुनाव बीत गया, डीएम साहब का यहां से तबादला हो गया, सुनील कुमार पटेल डीएम बनकर आये वह भी 14 महीने तक रहे, पर इस सड़क की हालत सुधरने की जगह और भी बिगड़ती चली गई।

आखिरकार लाख प्रयास के बाद काम शुरू भी हुआ तो क्षेत्रीय लोगों का आरोप है की मानक के अनुरूप काम नहीं हो रहा और रही सही सड़क को और भी खराब कर दिया गया। हर तरफ से हताश स्थानीय लोगों ने मंडलायुक्त व जिलाधिकारी को पत्रक देकर समस्या से निजात दिलाने की मांग की है। इस दौरान ग्रामप्रधान गोपालपुर लालचंद मौर्या, राजापुर प्रधान विनोद पटेल, श्यामनारायण दुबे, जय प्रकाश दुबे (पूर्व जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशी), पहकू पटेल, बुल्ली शर्मा, अंकज दुबे, प्रवीण कुमार मौर्य, अरुण दुबे, विकास, लोलारक गौतम, तपेश विश्वकर्मा, मोनू दुबे, विवेक, पप्पू गौतम सहित काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।

Related posts

संगम-दिवस : अक्षय तृतीया, परशुराम जयंती और ईद की त्रिधाराओं में डुबकी लगाने का पर्व

Khula Sach

डॉ बत्राज़ पॉजिटिव हेल्थ अवॉर्ड्स का वितरण

Khula Sach

Mirzapur : नियमित टीकाकरण में तेजी लाने को बनेगी खास रणनीति

Khula Sach

Leave a Comment