Khula Sach
ताज़ा खबरदेश-विदेशमीरजापुर

Mirzapur : माध्यम नही मनोयोग से मेहनत करने पर मिलती है मंजिल

रिपोर्ट : बृजेश गोंड

चुनार/मीरजापुर, (उ0प्र0) : विश्व हिन्दी दिवस के अवसर पर 10 जनवरी को इफेक्टिव टीचर्स ग्रुप द्वारा विषय प्रतियोगी परीक्षाएं और हमारी रणनीतियां पर आयोजित एक दिवसीय वेबिनार में मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित यू0पी0पी0सी0एस 2017 की परीक्षा में डी0एस0पी0 के पद पर चयनित विधि भूषण मौर्या ने कहा कि मै एक हिन्दी माध्यम का विद्यार्थी हूँ। मेरा मानना है कि मंजिल माध्यम से नही बल्कि पूर्ण मनोयोग से मेहनत करने पर मिलती है। किसी भी क्षेत्र में सफल होने के लिए कड़ी मेहनत की जरूरत होती है। कल पर काम को छोडऩे वाले सफलता का स्वाद चखने से चूक जाते हैं इसलिए प्रतियोगी कोई भी कार्य कल पर न छोड़े।

आगे उन्होंने बताया कि बेहतर तैयारी तभी संभव है जब नियमबद्ध व पाठ्यक्रम को बांट कर प्रतिदिन तैयारी की जाए। सफलता के लिए नियमित अध्ययन जरूरी है सामान्य ज्ञान, आई0सी0टी0, मानसिक योग्यता संबंधी प्रश्नों की तैयारी के लिए कोर्स से अलग पुस्तकों का सहारा लेना आवश्यक होता है। परीक्षा के लिए हमारी तैयारी पहले से ही होनी चाहिए, प्रतिदिन थोड़ा थोड़ा अध्ययन करके तैयारी को बेहतर बनाया जा सकता है।

इस वेबिनार में उत्तर प्रदेश के कई जिलों से सैकड़ो प्रतियोगी जुड़े थे।इफेक्टिव टीचर्स ग्रुप के संस्थापक व वेबिनार के संयोजक असिस्टेन्ट प्रोफेसर डॉ सुदर्शन सिंह ने बताया कि यह ग्रुप चार वर्षों से प्रतियोगियों को निःशुल्क मार्गदर्शन दे रहा है जिसकी विद्यार्थियों व शिक्षा जगत में खूब चर्चा हो रही है। वेबिनार में तकनीकी सहयोग प्रवीण, अनेश, अभिजीत ने दिया। ग्रुप के एडमिन, आशीष, रुबीना, गनिशा, स्मिता, फरहान, ज्योति ने मुख्य वक्ता और सभी प्रतिभागियों का आभार व्यक्त किया।

Related posts

पंजाब किंग्स को छोड़ लखनऊ टीम में शामिल होने की खबर पर प्रशंसकों ने “केएल राहुल” की फिरकी ली

Khula Sach

Noida : साइकिल रैली निकालकर सपा ने मनाई पंडित जनेश्वर मिश्र की जयंती

Khula Sach

Daily almanac & Daily Horoscope : आज का पंचांग व दैनिक राशिफल और ग्रहों की चाल 21 दिसंबर 2020

Khula Sach

Leave a Comment