Khula Sach
अन्यकारोबारताज़ा खबर

इवी बैटरी की रीसाइक्लिंग के लिए एमजी मोटर की पहल

ग्लोबल ई-वेस्ट रीसाइक्लिंग सर्विस प्रोवाइडर टीईएस-एएमएम इंडिया के साथ हाथ मिलाया

मुंबई : भारत में ग्रीन मोबिलिटी को अपनाने की प्रक्रिया को सुविधाजनक बनाने के लिए एक मजबूत इवी इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण करने की दिशा में एमजी मोटर इंडिया ने अब ग्लोबल ई-वेस्ट रीसाइक्लिंग और एंड-टू-एंड सर्विस प्रोवाइडर टीईएस-एएमएम इंडिया के साथ हाथ मिलाया है। यह साझेदारी एमजी जेडएस इवी बैटरी के पर्यावरण के लिए टिकाऊ और सुरक्षित रीसाइक्लिंग को सुनिश्चित करेगी, इस प्रकार जेडएस मालिकों को उनके इकोलॉजिकल फुटप्रिंट्स को लेकर अधिक सुकून सुनिश्चित होगा।

टीईएस-एएमएम के पास एशिया का एकमात्र लिथियम-आयन बैटरी रीसाइक्लिंग प्लांट है और यह 18001:2007 / आर2 (रिस्पॉन्सिबल रीसाइक्लिंग) सहित कई प्रबंधन प्रणालियों में प्रमाणित कुछ कंपनियों में से एक है। यह पर्यावरण की दृष्टि से बेहतर और सुरक्षित है कि असेट में रिकवरी के लिए यूनिक मैकेनिकल-हाइड्रोमेटेलर्जिकल प्रोसेस का इस्तेमाल करता है।

एमजी मोटर इंडिया के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक राजीव चाबा ने कहा, ‘एमजी में हम एक व्यापकइवी इकोसिस्टम विकसित करने के मिशन पर हैं जो भारत के ग्रीनर और क्लीनर भविष्य की ओर जाने का समर्थन करता है। हम दृढ़ता से मानते हैं कि बैटरी प्रबंधन एक महत्वपूर्ण क्षेत्र है जिस पर ध्यान देने की आवश्यकता है। टीईएस-एएमएम के साथ हमारी साझेदारी इसका विशेष ध्यान रखती है और यह सुनिश्चित करती है कि बैटरी न केवल वैल्यू चेन में फिर से प्रवेश करें, बल्कि सबसे अधिक इको-फ्रेंडली प्रोटोकॉल का पालन करते हुए रीसाइक्लिंग भी करें। हमें विश्वास है कि यह भारत के स्थायी ई-मोबिलिटी भविष्य की दिशा में लंबा रास्ता तय करेगा।’

एमजी ने 2020 की शुरुआत में जेडएस इवी लॉन्च किया और राष्ट्रीय व क्षेत्रीय स्तर पर लॉकडाउन के बावजूद भारत में आज तक 1,000 से अधिक इकाइयों को रिटेल किया है। शक्तिशाली इवी बेहतरीन लुक्स के साथ आती है और मात्र 8.5 सेकंड में 0 से 100 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार पकड़ सकती है। यह लगभग 50 मिनट में 0% से 80% तक चार्ज हो सकती है।

Related posts

आइकिया की नई पहल, भारत में होम फर्निशिंग को अधिक किफायती और सुलभ बनाने पर है केंद्रित

Khula Sach

Poem : “दर्द क्या होता है…”

Khula Sach

Mirzapur : 14 मार्च को राष्ट्रपति के आगमन को लेकर सेना ने हेलीकॉप्टर से किया लाइव टेस्टिंग

Khula Sach

Leave a Comment