Khula Sach
कारोबारताज़ा खबरदेश-विदेश

एम्‍पायर सेंट्रम ने अपनी सीएसआर पहल ‘मुंबई मेगा टैलेंट हंट’ को लॉन्‍च किया यह पहल सामुदायिक सशक्तिकरण के लिए कला को एक संसाधन के रूप में देखती है

मुंबई: वर्ल्‍ड आर्ट डे (विश्‍व कला दिवस) के अवसर पर, अंबरनाथ में स्थित अपनी तरह की पहली टाउनशिप एम्‍पायर सेंट्रम (ईसी) ने अपनी सीएसआर पहल ‘मुंबई मेगा टैलेंट हंट’ को लॉन्‍च किया है, जिसका मकसद इस क्षेत्र में युवा, उभरते कलाकारों को सामने लाना और उनके हुनर को निखारना है। मेगा टैलेंट हंट एक मंच है, जोकि युवा प्रतिभाओं को अपनी कला और रचनात्‍मकता दिखाने के लिये प्रोत्‍साहित करता है और उन्‍हें पहचान पाने तथा ज्‍यादा से ज्‍यादा दर्शकों के समक्ष प्रस्‍तुत होने का अवसर देता है।

टैलेंट हंट सभी युवा कलाकारों के लिये खुली थी। इस पहल के माध्‍यम से, एम्‍पायर सेंट्रम को कला समुदाय को सहयोग देने और उसका उत्‍थान करने और रचनात्‍मकता तथा नवाचार की संस्‍कृति को बढ़ावा देने की आशा है।

इस अवसर पर बात करते हुए, एम्‍पायर सेंट्रम (एम्‍पायर इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड का एक डिविजन) के सीईओ एवं निदेशक अनूप भार्गव ने कहा, “सामाजिक रूप से जिम्‍मेदार संस्‍था होने के नाते, एम्‍पायर सेंट्रम में हम दुनिया में सकारात्‍मक बदलाव लाने के लिये प्रेरित करने के लिए कला की शक्ति पर विश्‍वास करते हैं। वर्ल्‍ड आर्ट डे का दिन कला और समाज पर उसके प्रभाव के महत्‍व पर रोशनी डालने के लिये एक आदर्श अवसर है। इस पहल के माध्‍यम से, हमें सकारात्‍मक प्रभाव निर्मित करने और बड़े पैमाने पर समाज की भलाई में योगदान देने की उम्‍मीद है।”

एम्‍पायर सेंट्रम के इस जश्‍न में कई गतिविधियों का आयोजन हुआ, जैसे कि बच्‍चों के लिये टैलेंट हंट और उनके पैरेंट्स के लिये लकी ड्रॉ। इस आयोजन में 5 से लेकर 15 साल तक के बच्‍चों ने कई प्रतियोगिताओं में भाग लिया (गायन, नृत्‍य, ओपन माइक, कला और शिल्‍प)। भाग लेने वाले सभी बच्‍चों को प्रमाणपत्र मिला, जबकि हर श्रेणी में शीर्ष तीन विजेताओं ने इनाम भी जीते। एक और बड़ा आकर्षण था “अंबरनाथ के मंच पर अपनी असली प्रतिभा दिखाओ’ नामक डांस प्रतियोगिता। ऑडिशन और फिनाले के लिये कोरियोग्राफर राजीव उज्‍जैनवाल जज के रूप में मौजूद थे। फिनाले के दिन “इंडिया हेज गॉट टैलेंट सीजन-9’’ के फाइनलिस्‍ट डिमोलिशन क्रू को खास मेहमानों के तौर पर बुलाया गया था।

भाग लेने वाले बच्‍चों के पैरेंट्स के लिये लकी ड्रॉ भी था। लकी ड्रॉ के विजेताओं को कई ऑफर्स मिले, जिसमें टाउनशिप में अपने सपनों के घर की बुकिंग के लिये छूट और पसंदीदा लोकेशंस शामिल का चुनाव करना हैं। कंपनी ने सभी भाग लेने वालों को साइट का पूरा दौरा भी करवाया, ताकि वे इस प्रोजेक्‍ट और इसमें मिलने वाली सुविधाओं का अहसास कर सकें। कुल मिलाकर 2 लाख रूपये के इनाम दिये गये।

श्री भार्गव ने आगे कहा, “इस पहल के माध्‍यम से हम अपने प्रोजेक्‍ट के बच्‍चों और परिवारों को उनके नये घर की रोमांचक कहानी बताने के लिये प्रोत्‍साहित भी कर रहे हैं। नये घर की कहानी बनाने के लिये कला का इस्‍तेमाल कर बच्‍चे और उनके परिवार न केवल अपनी रचनात्‍मकता और कल्‍पना-शक्ति दिखा सकते हैं, बल्कि अपने भविष्‍य के घर के लिये एक साझा सपना भी बुन सकते हैं।”

प्रकृति की गोद में 35 एकड़ की यह बहुमुखी टाउनशिप 3.5 एकड़ के बड़े गार्डन के साथ काफी जगह वाले और सोच-समझकर डिजाइन किये गये 1 बीएचके और 2 बीएचके घरों की पेशकश करती है। इस टाउनशिप में दूसरी अत्‍याधुनिक सुविधायें भी मिलती हैं जैसे कि सीनियर सिटिजन कॉर्नर, एम्फिथियेटर, बास्‍केटबॉल कोर्ट, बैडमिंटन कोर्ट, ओपन जिमनेशियम, आदि। टाउनशिप के रूफटॉप एरिया में एक इनफिनिटी पूल, सनसेट लॉन्‍ज, मीडिया लॉन्‍ज, गेमिंग ज़ोन, लाइब्रेरी और बिजनेस सेंटर।

 

 

 

 

 

 

 

Related posts

सफलता की उड़ान : पीआर 24×7 की वीपी, नेहा गौर ने पीआर और कम्युनिकेशन एसेस 2021 अवॉर्ड किया अपने नाम

Khula Sach

ऑडी ने भारत में 15 सुनहरे वर्ष पूरे किए

Khula Sach

सड़क के किनारे कंबल बेचने वाली बुलबुल राय बनी कैंसर पीड़ित मरीजों की प्रेरणा

Khula Sach

Leave a Comment