Khula Sach
ताज़ा खबर राष्ट्रीय

Pune : गरीब बच्चों की सच्ची शिक्षक “पहली पहला एजुकेशन सोसाइटी” की सचिव नीतू सिंह

पुणे : जिन्दगी में सबसे बड़ा धनवान वो इंसान होता है… जो दूसरों को अपनी मुस्कराहट देकर उनका दिल जीत लेता है.. ऐसी ही गुणों की प्रतिमूर्ति है “पहली पहला एजुकेशन सोसाइटी” की सचिव नीतू सिंह है। गरीब बच्चों की सच्ची शिक्षक नीतू सिंह, एक आधुनिक शिक्षक का काम करती है।

जंगलों को काटना नहीं बल्कि रेगिस्तान को सींचना है। ज्ञान वह शक्तिशाली हथियार है जिससे आप पूरी दुनिया बदल सकते हैं। ऐसी ही भावना के साथ एक महिला समाज सेविका नीतू सिंह अपना एक अभियान चला रखा है वह बिना किसी प्रचार-प्रसार के और किसी सामाजिक आडंबर के गरीब बस्तियों में रहने वाले ऐसे बच्चों के बीच शिक्षा और संस्कार का अलख जगा रही हैं जिनकी शिक्षा किसी कारण छूट गयी है या उनको शिक्षा का अभाव है। रहती हैं उनके पति प्राइवेट कंपनी में कार्य करते हैं और वे उनकी मदद करते हैं उत्तर प्रदेश से मध्य प्रदेश में आकर वहां पर भी इन्होंने अतुलनीय कार्य किए और अभी यह मध्य प्रदेश से पुणे महाराष्ट्र में भी आकर इन कार्य को जिंदा रखे हुए हैं।

जी हाँ हम हिंदी दिवस पर ऐसे शिक्षकों की बात करते है जो शैक्षिक संस्थाओं में विद्यार्थियों को नई राह दिखाते हैं, लेकिन वह उसके लिए सरकार से पैसा लेते है। लेकिन आज हम ऐसी महिला की बात कर रहे हैं जो जहाँ जाती है वहाँ पर बच्चो क़ो शिक्षित करती है। अभी पुणे में एक ऐसी महिला है जो साधनों के अभाव में भी पुणे की गरीब बस्ती में बच्चों को न केवल शिक्षित कर रही है, बल्कि उनको पारिवारिक माहौल भी दे रही है।

कहने को नीतू सिंह सरकारी शिक्षक थी, मगर उनके मन में ऐसे बच्चों को संस्कारित करने और शिक्षित करने का जज्बा था जो स्कूल नहीं जा पाते। इसलिए उन्होंने सरकारी नौकरी छोड़कर समाज सेवा के अभियान में जुट गई और सामाजिक संस्था “पहली पहला एजुकेशन सोसाइटी” का गठन किया। उनकी संस्था पहली पहल विभिन्न शहरों और राज्य में अनेक कार्य कर रही है, जैसे गरीब बच्चों को शिक्षित करना, बच्चों को अध्ययन सामग्री उपलब्ध कराना, गरीब महिला को शिक्षित करना, उनको रोजगार दिलाना और स्वच्छता के बारे में बताना। छोटी-छोटी बचत भी कराना उनको सिखाती है उनकी संस्था। बता दें कि “पहली पहला एजुकेशन सोसाइटी” का कार्य पुणे के अलावा लखनऊ, इंदौर व आगरा में सफलतापूर्वक चल रहा है।

Related posts

Mirzapur : Apana Dal (S) के जिला संगठन की मासिक बैठक संपन्न

Khula Sach

‘लीजेंड दादा साहेब फाल्के अवार्ड्स -२०२१’ द्वारा पत्रकार व समाजसेवक दिलीपभाई पटेल सम्मानित

Khula Sach

Mirzapur : ग़ैर लाभकारी स्वयंसेवी संस्था अनुप्रिया पटेल फाउंडेशन की ओर से ज़िले के हर ग्राम पंचायत में दिए जाएंगे दो-दो बेपोराइजर मशीन व डिजिटल थर्मामीटर

Khula Sach

Leave a Comment