Khula Sach
अन्यताज़ा खबरमनोरंजन

भाई-बहन का प्यार, रक्षाबंधन का त्योहार

✍️  मनीषा कुमारी “मन्नू” (विरार, महाराष्ट्र)

राखी का त्योहार आया, खुशियों की बहार लाया।
बहनों ने सुंदर-सुंदर राखी का थाल सजाया।।

भाई ने बहनों के लिए प्यारा -प्यारा उपहार लाया।
धागों में बंधा भाई-बहन के प्यार का त्योहार आया।।

कभी भाई-बहन का प्यार टूटे न इस जीवन में।
कभी एक-दूसरे का साथ न छूटे इस जीवन में।।

सूना न रहे किसी भी भाईयों का कलाई इस राखी पर।
रंग-बिरंगे राखी से सजी रहे कलाई इस शुभ अवसर पर।।

प्यार की मिसाल हैं भाई-बहन के रक्षाबंधन का त्योहार।
हर दिन भाई-बहन के लिए हो ये राखी बंधन का त्योहार।।

सावन महीने में पुर्णिमा को मनाया जाता हैं यह त्योहार।
सभी बहने राखी बांधने को होती हैं सज-धज के तैयार।।

(लेखिका स्टूडेंट टीचर के साथ ही ठाणे महाराष्ट्र से प्रकाशित राष्ट्रीय साप्ताहिक “सबुरी टाइम्स” में उप संपादक, उत्तर प्रदेश के “श्रीयम न्यूज़ नेटवर्क” में साहित्य संपादक हैं।)

Related posts

दुनिया भर में मनाये जाने वाले हॉलिडे सीजन के दौरान अमेज़न ग्लोबल सेलिंग ने भारतीय एक्सपोर्टर्स के लिए तेज विकास का अवसर प्रदान किया

Khula Sach

Mirzapur : प्रधानमंत्री आवास योजना में लाखों का हेरा फेरी, गरीबों को नहीं मिल पा रहा है उनका पूरा हक़

Khula Sach

कविता : अंधा-युग

Khula Sach

Leave a Comment