Khula Sach
अपराधताज़ा खबर

Delhi : किडनैपिंग मामले में करोड़ों की फिरौती मांगने वाले तीन शातिर मुजरिमों को छापेमारी कर दबोचा, एक आरोपी फरार

✍️ अनीता गुलेरिया

दिल्ली : उत्तम नगर पुलिस को पीड़ित 36 वर्षीय चुन्नू ने शिकायत दर्ज करवाते हुए बताया वह तीन जुलाई को सुबह साढे आठ बजे के करीब अपनी मोटरसाइकिल से गोदाम पर जा रहा था । जब वह नवादा सरकारी स्कूल के पास पहुंचा तो चार-अज्ञात युवकों ने उसका रास्ता रोककर झगड़ा करते हुए उसके सिर पर किसी भारी चीज से वार किया,जिससे वह बेहोश हो गया और होश आने पर उसने खुद को एक अनजान जगह पर उन चारों अज्ञात युवकों को अपने पास खड़े पाया । होश में आने पर चारों बदमाशों ने उसे पीटते हुए एक करोड़ की जबरन फिरौती की मांग करते हुए उसे अपने भाई नसीम को फोन करके पैसे की व्यवस्था करने व किसी को ना बताने को कहा । पीड़ित के भाई नसीम ने पांच लाख की जैसे तैसे व्यवस्था करके बदमाशों के बताए पते पर पहुचाए । जबरन फिरौती की रकम वसूलने के बाद शातिर बदमाशों ने (पीड़ित-बंधक) को पुलिस में बताने पर जान से मार देने की धमकी देते हुए छोड़ दिया। कुछ दिन बाद मुख्य बदमाश डेविड ने शिकायतकर्ता को 11 जुलाई को फोन करके और पैसे मांगे । शिकायतकर्ता के अनदेखा करने पर 17 जुलाई को उसके मोबाइल फोन से सात लाख की फिरौती मांगी गई । शिकायतकर्ता के पास इतने पैसे ना होने पर बुरी तरह खौफजदा पीडित ने 17 जुलाई को उत्तम नगर पुलिस में करोड़ों की फिरौती की मांग की शिकायत को दर्ज करवाई। मामले की गंभीरता को देखते हुए डाबड़ी एसीपी अनिल दुरेजा के दिशा निर्देशन में थाना प्रभारी रामकिशोर के नेतृत्व में इंस्पेक्टर गोविंद सिंह की अगुवाई में एसआई करतार सिंह,वरुण कुमार,हेड कांस्टेबल गोपाल कांस्टेबल अजय की टीम को शातिर मुजरिमों की धरपकड़ के लिए लगाया गया टीम ने तत्परता दिखाते हुए मौके वारदात के सीसीटीवी फुटेज खंगालते हुए फिरौती के लिए आए फोन की लोकेशन को ट्रेस करते हुए अपने सूचना-तंत्र माध्यमों से वे स्थानीय खुफिया जानकारी जुटाने में लगी थी । इसी क्रम दौरान गुप्त सूचना मिली गुप्त सूचना में सूचना धारक के बताए पते पर छापेमारी करके पुलिस ने मुख्य आरोपी डेविड उर्फ जतिन मलिक (22) को मोहन गार्डन प्रताप एनक्लेव उत्तम नगर से दबोच लिया ।पुलिस कड़ी पूछताछ दौरान शातिर मुजरिम ने अपना गुनाह कबूलते हुए बताया वह कम समय में ज्यादा पैसा कमाना चाहते थे,इसलिए उसने अपने दो अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर करोड़ों रुपए की फिरौती के लिए (किडनैपिंग) जैसी वारदात को अंजाम दिया । पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर दो आरोपियो को छापेमारी करके दबोच लिया।

द्वारका एडिशनल डीसीपी शंकर चौधरी अनुसार पकड़े गए तीनों अभियुक्तों की पहचान डेविड उर्फ जतिन मलिक (22) दुसरा सौरव (18) तीसरा अर्जुन (21) तीनों आरोपी उत्तम नगर के निवासी और पीड़ित के पड़ोस में ही रहने वाले हैं । पुलिस ने मुख्य आरोपी डेविड से छापेमारी दौरान दो लाख पांच हज़ार,अर्जुन से (₹60,000/-) साठ हजार नगद कैश व तीसरे मुजरिम सौरव से (₹ 51000/-) कुल मिलाकर तीन लाख सोलह हजार (₹3,16000/-) की नगद राशि पुलिस ने तीनों से बरामद कर ली है । कुछ दिन पहले ही बाकी की रकम से मुजरिमो ने एक बुलेट मोटरसाइकिल खरीदा था । इस तरह फिरौती की रकम में तीनों की भागीदारी बराबर की पाई गई है । पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल मोटरसाइकिल फिरौती मांगने के लिए इस्तेमाल दोनों मोबाइल को जब्त कर आईपीसी 365/386/ 34 की धारा तहत मामला दर्ज कर इन शातिर अपराधियों को उनके सही ठिकाने पहुंचाकर फरार चल रहे आरोपी माया की तलाश में गहनता से जुड़ी है । पुलिस ने फरार आरोपी के जल्द पकड़े जाने के आसार जताए हैं । इस तरह उत्तम नगर पुलिस ने कम समय में पीड़ित से करोडो की फिरौती मामले को सुलझाकर एक बडी कामयाबी को दिया अंजाम।

Related posts

आभार शब्द संतुष्टि के बराबर है किसी का धन्यवाद करने से हमें संतुष्टि प्राप्त होती है

Khula Sach

एमो इलेक्ट्रिक बाइक्स का फेस्टिव सीजन में 350+% की वृद्धि का लक्ष्य

Khula Sach

Mumbai : सायन अस्पताल के कोविड योद्धाओं का सम्मान

Khula Sach

Leave a Comment