Khula Sach
ताज़ा खबरदेश-विदेश

Chhatarpur : माफियाओं द्वारा घर गिराकर कीमती सामान ले जाने की शिकायत पर नहीं की जा रही कार्यवाही

फरियादी ने लगाई एसपी कलेक्टर के दर में कार्रवाई की गुहार

रिपोर्ट : निर्णय तिवारी

छतरपुर, (म.प.) :  नौगांव स्थित गल्ला मंडी रोड में रहने वाले प्रभुदयाल व दुर्गा प्रसाद सोनी ने पुलिस अधीक्षक और कलेक्टर को दिए आवेदन देकर कार्रवई की मांग की गई। फरियादी दुर्गा प्रसाद सोनी ने शिकायत में बताया कि प्रकरण क्रमांक 201907058 दिनांक 17/10/2019 के मामले में आवेदक के घर को जेसीबी मशीन से तोडऩे और घर में रखे कीमती सामान सोना चांदी  के आभूषण आदि की लूट करने व परिवारजनों के साथ मारपीट कर जान से मारने की धमकी के संबंध में आरोपियों पर पुलिस द्वारा अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई। फरियादी ने आवेदन पत्र में बताया कि इस मामले में नौगांव थाना पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज मामले में कार्रवाई नहीं होने पर आयोग की शरण ली थी। जिसपर पुलिस अधीक्षक को आोग द्वारा आरोपियों के विरुद्ध अपराध दर्ज करने के निर्देश दिए गए थे। जिसके बाद पुलिस अधीक्षक द्वारा हस्तक्षेप कर आरोपियों के विरुद्ध मामूली वा जमानती धाराओं पर प्रकरण दर्ज कराया गया। मामले विवेचक द्वारा मामले की सही विवेचना नहीं की गई, लूट एवं डकैती की धाराएं नहीं लगाई गई और ना ही लूटे गए जेवरात, ग्रहस्थी का सामान जप्त किया गया और अपराध में प्रयुक्त जेसीबी मशीन व हथियारों को जप्त नहीं किया गया। जिस पर पुलिस महानिदेशक भोपाल द्वारा दिए गए निर्देशों पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक छतरपुर द्वारा मामले की जांच गई जिस पर तत्कालीन थाना प्रभारी राकेश साहू व बैजनाथ शर्मा द्वारा मामले में बरती गई लापरवाही व विधि संगत कार्रवाई ना होने का उल्लेख किया गया है।

पत्र में बताया गया कि उक्त जांच रिपोर्ट अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक द्वारा ने किया गया कि प्रकरण में प्रथम सूचनाएं रिपोर्ट एवं विवेचना में यह तथ्य है कि फरियादी का मकान आरोपी गणों द्वारा जेसीबी मशीन से तोड़ा गया, लेकिन जेसीबी मशीन जप्त नहीं की गई और नुकसान पंचनामा 18/9/19 को निरीक्षक राकेश साहू द्वारा तैयार किया गया, लेकिन कितनी राशि का नुकसान हुआ है इसका उल्लेख नहीं किया गया। वहीं प्रकरण में धारा 149 ता.हि. का समावेश नहीं किया गया है, प्रथम सूचना रिपोर्ट में उल्लेख है कि सारा गृहस्थी व दुकान का सामान आरोपी ले गए, लेकिन इस संबंध में तत्कालीन विवेचक राकेश साहू एवं निरीक्षक बैजनाथ शर्मा द्वारा विधीसंगत कार्यवाही करना नहीं पाया गया। वहीं इसके अलावा मामले में पुलिस द्वारा घोर लारपवाहर करना पाया गया है। जिसके बाद भी अभी तक इन मामले में पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। जिसको लेकर आवेदक ने पुलिस अधीक्षक और कलेक्टर को आवेदन देकर जल्द से जल्द कार्रवाई की मांग की है

Related posts

Mirzapur : पीएम किसान सम्मान निधि से वंचित किसान डाटा फीड कराएं – बीटीएम रमेश चन्द्र मौर्य 

Khula Sach

ओरिफ्लेम ने द वन ‘लिप स्पा लिप बाम’  पेश किया

Khula Sach

वंचित बच्चों की शिक्षा के लिए सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया ने दिया 18.35 लाख रुपये का दान

Khula Sach

Leave a Comment