Khula Sach
ताज़ा खबरमीरजापुरराज्य

Mirzapur : कोरोना के इलाज में निजी डॉक्टर सहयोग करें – डीएम 

रिपोर्ट : तपेश विश्वकर्मा

मीरजापुर, ( उ.प्र.) : जिलाधिकारी  प्रवीण कुमार लक्षकार ने गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभागार में  जिले के प्राइवेट/निजी नर्सिंग होम के चिकित्सकों की बैठक कर कोरोना महामारी की लड़ाई में  सहयोग करने का अपील किया। जिलाधिकारी ने कहा कि कोरोना के केस जिस रफ्तार से  बढ़ रहे है उसके रोकथाम व बचाव व जीवन रक्षा के लिये हर कदम प्रयास करने की आवश्यकता है। निजी चिकित्सकों से कहा कि सरकारी अस्पतालों के साथ-साथ निजी अस्पताल भी कोरोना मरीजों के मैनेजमेन्ट के लिये सहयोग प्रदान करें। जिलाधिकारी का कहना है कि अगले कुछ दिनो मे एल-2 के मरीजो की संख्या बढ़ने की सम्भावना की जा रही है। इसलिए निजी नर्सिग होम मे भी एल-2 अस्पताल की सुविधा के लिये बेड आरक्षित करें। इस परिस्थिति में ऐसे अस्पतालो मे जहाॅ एल-2 के लिये बेड आरक्षित किया जा रहा है। वहां पर आक्सीजन, वेन्टीलेटर व अन्य आवश्यक सुविधाओं की व्यवस्था सुनिश्चित करें। यह समय मानवता को बचाने का समय है अधिक से अधिक कोरोना टेस्ट जाॅच की जाये। प्राइवेट अस्पतालो मे आर0टी0पी0सी0आर व अन्य जाॅच के लिये शासन द्वारा निर्धारित कोविड प्रोटोकाल का पालन किया जाये तथा किसी मरीज से शासन द्वारा निर्धारित मूल्य/दर से अधिक न लिया जाय। टेस्ट के लिये निर्धारित मूल्य से अधिक पैसा लेने की शिकायत मिलने पर कड़ी कार्यवाही किया जायेगा। कोरोना जाॅच के समय पुरानी गम्भीर बीमारियों को छिपा लिया जाता है जो जानलेवा साबित हो सकता है।

जिलाधिकारी ने कहा कि टेस्ट के दौरान मरीजों के पुरानी बीमारियो के बारे में  जानकारी अवश्य ले। इसके साथ ही पैथालाजी व नर्सिग होम में कार्यरत कोई कर्मी वाराणसी, इलाहाबाद या आस पास अन्य जिलो से आ रहा हो तो उसे अपने पैथालाजी/अस्पताल के पास ही जनपद में  ही रहने के लिये कहा जाये। डाॅक्टरो से कहा कि वे स्वयं मास्क लगाये सेनिटाइजर रखें ताकि स्वयं चिकित्सक सुरक्षित रहते हुये लोगों को सुरक्षा प्रदान करें। जिलाधिकारी ने प्राइवेट पैथालाजी व नर्सिग होम से अपील किया कि वे अपने यहाॅ से लैब टेक्नीशियन सरकारी अस्पताल के लिये उपलब्ध करायें। सरकारी अस्पताल के टेक्नीशियन के कोरोना पाजिटिव हो जाने के कारण कार्य प्रभावित हो रहा है। उन्होने जनपद के नागरिको से भी अपील करते हुये कहा कि अपने घरों में एक पल्स आक्सीमीटर अवश्य रखें तथा दिन में कम से कम तीन बार परिवार के प्रत्येक व्यक्ति जाॅच अवश्य करे। जिलाधिकारी ने कहना है कि संज्ञान में आया है कि कतिपय लोगों के द्वारा मास्क की कालाबजारी की जा रही है ऐसे लोगों की गोपनीय सूचना दे ताकि उनके विरूद्ध कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाये।

यहां कराएं कोविड -19 की जांच 

बैठक मे मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ पी0डी0 गुप्ता ने बताया कि कोरोना टेस्ट जिला अस्पताल में आर0टी0पी0आर0 की जाॅच के अलावा एम0सी0एच0 विंग महिला अस्पताल मे भी कोरोना का टेस्ट किया जा रहा है। इसके अलावा रेलवे स्टेशन नगर क्षेत्र एवं जेल, रेलवे स्टेशन चुनार एवं विन्ध्याचल रेलवे स्टेशन पर भी कोविड-19 जाॅच हेतु टीम लगाया गया है। कोविड-19 जाॅच कराने के लिये उपरोक्त स्थानों पर पहुॅचकर जाॅच करा सकते है ताकि भीड़-भाड़ से बचा जा सके।

ई संजीवनी के तहत चिकित्सकों के नम्बरों पर ले सकते हैं निःशुल्क सलाह

जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने जानकारी देते हुये कहा कि कोविड-19 के दौरान भीड़-भाड़ बचने के लिये किसी भी बीमारी के उपचार के लिये चिकित्सकों से उनके फोन नम्बर पर  कोई भी व्यक्ति सलाह एवं दवा की जानकारी लिया जा सकता है।

Related posts

काव्य कौमुदी चेतना हिंदी मंच द्वारा पितृदिवस के उपलक्ष्य में द्विदिवसीय अंतरराष्ट्रीय कवि सम्मेलन सम्पन्न

Khula Sach

Mirzapur : विवाहिता की गला रेत कर हत्या

Khula Sach

Mirzapur : प्रधानमंत्री जन कल्याण योजना प्रचार प्रसार अभियान के तहत कार्यकार्ता मनोनीत

Khula Sach

Leave a Comment