Khula Sach
अन्यताज़ा खबर

Education : ऐसे करें कनाडा से एमबीबीएस की पढ़ाई

मुंबई : भारत में कई सारे ऐसे छात्र है जो विदेशों में पढ़ाई कर सेटल होना चाहते हैं। इसके लिए वे कई देशों की टॉप यूनिवर्सिटीज में दाखिले के लिए आवेदन करते हैं। कई देशों के कड़े नियमों के कारण छात्रों को उन देशों का वीजा नहीं मिल पाता है और छात्रों का विदेश में पढ़ने का सपना अधूरा रह जाता है। इस ब्लॉग में उस देश के बारे में बताने वाले हैं जहाँ पढ़ने के लिए आसानी से छात्रों को वीजा मिल जाता है। हम बात कर रहे हैं कनाडा की… भारत से हर साल लाखों छात्र कनाडा में पढ़ने के लिए जाते हैं। कनाडा में पढ़ने और रहने का खर्च अन्य देशों की तुलना में काफी कम रहता है। भारतीय छात्रों को कनाडा से एमबीबीएस की पढ़ाई करने के लिए क्या करना चाहिए इस बारे में जानकारी दे रहें है … लीवरेज एडु के संस्थापक और सीईओ अक्षय चतुर्वेदी।

कैसे करें कनाडा से एमबीबीएस :

दुनिया भर से कई छात्र यूके और अमेरिका में पढ़ने जाते हैं लेकिन कनाडा से भी छात्र अपनी पढ़ाई अच्छे से पूरी कर सकते हैं। कनाडा से एमबीबीएस पूरा करने का समय 3 से 4  साल का होता है जिसको एमडी प्रोग्राम के रूप में पेश किया जाता है। इसके अलावा यहां से बीएससी मेडिसिन, बीएमसी, यूएमई, बायोमेडिकल साइंस में अंडर ग्रेजुएट कोर्स एमसीडीस, एमएससी, पीएचडी, सर्जरी, मेडिसिन और बायो केमिस्ट्री में एमडी का भी कोर्स छात्र पूरा कर सकते हैं। वहीं अंडर ग्रेजुएट डिग्री के लिए, उम्मीदवारों के बायोलॉजी या साइंस में जरूरी मार्क्स के साथ बैचलर डिग्री होनी अनिवार्य है। आईआईईएलटीएस, ईएलटीएस, टीओईएफएल जैसे अंग्रेजी भाषा प्रोफिशिएंसी टेस्ट को पास करने के लिए इसमें बेहतर मार्क्स आना जरूरी है। इसके साथ ही कनाडा में एमबीबीएस या फिर किसी अन्य मेडिकल कोर्स की फीस के लिए आप कनाडाई यूनिवर्सिटी के द्वारा मिलने वाले प्राइवेट स्कॉलरशिप भी ले सकते हैं। ये सभी स्कॉलरशिप मेरिट बेसिस पर कोई भी छात्र ले सकता है। यहाँ मिलने वाली स्कॉलरशिप – वानियर कनाडा स्नातक स्कॉलरशिप, ओंटारियो ग्रेजुएट स्कॉलरशिप, कैनेडियन रोड्स स्कॉलर्स फाउंडेशन स्कॉलरशिप, डॉ जॉन ई ब्रैडली स्कॉलरशिप, क्वींस एस्डेल मेमोरियल स्कॉलरशिप (केवल महिलाओं के लिए) यूनि्वर्सिटी से प्राप्त कर सकते हैं। कनाडा से एमबीबीएस करने की फीस करीब 26,000 सीएडी to 96,000 सीएडी [68,810,000 से 210,044,700 तक भारतीय रूपए ] प्रतिवर्ष होती है। कनाडा से मिलने वाली डिग्री विश्व भर में मान्यता प्राप्त डिग्राी होती है।

ये है कनाडा की टॉप यूनिवर्सिटी :

यूनिवर्सिटी ऑफ़ शेर ब्रूक, क्वींस यूनिवर्सिटी, मैकमास्टर यूनिवर्सिटी, यूनिवर्सिटी ऑफ टोरंटो, मैकगिल यूनिवर्सिटी, मेमोरियल यूनिवर्सिटी ऑफ न्यूफाउंडलैंड

12वीं के बाद एमबीबीएस :

अगर आप भी 12वीं के बाद एमबीबीएस करने की सोच रहे हैं तो आपके लिए सबसे बेहतर विकल्प कनाडा से अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री लेना हो सकता है। कनाडा से एमबीबीएस की डिग्री प्राप्त करने के लिए छात्र को ग्रेजुऐट होना अनिवार्य है। इसलिए छात्र 12 वीं के बाद कनाडा के टॉप मेडिकल कॉलेज में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त कर सकते हैं। जिसके बाद कनाडा की टॉप यूनिवर्सिटी से छात्र अपनी एमबीबीएस यानी एमडी की पढ़ाई पूरी कर सकते हैं।

कैसे करें आवेदन :

कनाडा से एमबीबीएस करने के लिए या फिर किसी अन्य मेडिकल प्रोग्राम में भाग लेने के लिए यूनिवर्सिटीज के अलग-अलग नियम हो सकते हैं। लेकिन सबसे पहले आपको अपने पसंद का मेडिकल कॉलेज या फिर यूनिवर्सिटी को चुनना होगा इसके बाद यूनिवर्सिटी के द्वारा दी जाने वाली योग्यता को चेक करना होगा। जब भी आप विदेश में पढ़ाई करने जाते हैं तो वहाँ पर बोले जाने वाली भाषा में किसी प्रकार की दिक्कत ना आए इसके लिए भाषा के प्रोफिशिएंसी टेस्ट को देना होता है। जिसमें आप की मदद लीवरेज एडु करेगा। नीट और एम-कैट के एग्जाम को क्लियर करने के लिए आप लीवरेज एडु की बेहतर गइडेंस पा सकते हैं। लीवरेज एडु आपको हर वो टेस्ट क्लियर करने में मदद करेगा जिसके बाद आप कनाडा में अपने मनपसंद प्रोग्राम को आसानी से ले सकेंगे। वहीं लीवरेज एडु के जरिए पाए हमारे बेस्ट एक्सपर्ट की गाइडेंस जो आपके करियर को देगी लंबी उड़ान। इसके अलावा अगर आप विदेश में जाकर पढ़ाई करने की सोच रहे हैं और आपको सही मार्गदर्शन की जरूरत है तो ऐसे में आप लीवरेज एडु से संपर्क कर सकते हैं। लीवरेज एडु के बेस्ट एक्सपर्ट्स आपकी हर संभव मदद करेंगे।

Related posts

इंश्योरेंसदेखो ने सीरीज बी फंडिंग में 60 मिलियन डॉलर की पूंजी जुटाई

Khula Sach

250 मिलियन डॉलर के निवेश के साथ एफसीए इंडिया ने स्‍थानीय उत्‍पादों की श्रृंखला का किया विस्‍तार 

Khula Sach

आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस ने लॉन्च किया गारंटीड पेंशन प्लान

Khula Sach

Leave a Comment