Khula Sach
कारोबारताज़ा खबर

डोझी ने अस्पतालों के लिए “डोझी-प्रो”लांच की घोषणा की

मुंबई, 5 मार्च 2021 : संपर्क रहित दूरस्थ रोगी देखभाल (कॉन्टैक्टलेस  रिमोट पेशंट मॉनिटरिंग- आरपीएम) सेवा क्षेत्र में अग्रणी कंपनी डोझी ने अस्पतालों के लिए कॉन्टैक्टलेस व्हायटल मॉनिटर उत्पाद “डोझी प्रो” लांच करने की घोषणा की है। उस समय डॉ. वैशाली शेळगावकर, डॉ. निशांत और मुदित दंडवते ने उपस्थित थे। डोझी प्रो में एआय पावर्ड  ट्रायएजिंग सिस्टम है किसी भी बिस्तर को 2 मिनट के भीतर स्टेप-डाउन आईसीयू में बदल देता है और आईसीयू के बाहर मरीज की रिमोट मॉनिटरिंग करने में सक्षम बनता है। महीने से भी कम समय में उनके स्टार्टअप के साथ भारत भर में 70 से अधिक अस्पतालों ने डोझी के साथ भागीदारी की है और उनके नवीनतम आरपीएम समाधान को भी अपनाया है। मरीजों की निरंतर निगरानी करने और मरीजों की सर्वोत्तम देखभाल करने के लिए मदत करने के लिए अस्पतालों में 4000 उपकरणों को तैनात किया गया है। डोझी ने  16,000 से अधिक मरीजों की निगरानी की है,जिन्होंने जोखिम और स्वास्थ्य बिगड़ने की प्रारंभिक पहचान के साथ  250 से अधिक लोगों की जान बचाने में मदद की है।  डोझी 500 से अधिक अस्पतालों के साथ साझेदारी करने की और अगले 12 महीनों में अतिरिक्त 200000 मरीजों की निगरानी  करने की उम्मीद करता है।

मुदित दंडवते, सीईओ और को-फ़ाउंडर, डोझी :- रिमोट पेशंट मॉनिटरिंग  यह तकनीक अस्पतालों और आरोग्य सेवा कर्मचारियों के लिए एक महत्वपूर्ण सेवा साबित हो रही है।  इसकी वजह से इस महामारी के दौरान और उसके बाद भी इस क्षेत्र में मरीजों को सर्वोत्तम सेवा प्रदान करना संभव हुआ है। कोविड-19 मरीजों की सेवा करना हो या फिर सर्जरी के बाद फोलोअप लेना हो या फिर मरीजों की दीर्घकालीन बीमारी का नियमित देखभाल प्रबंधन हो, डोझी क्लीन-ग्रेड तकनीक के साथ डॉक्टरों और अस्पतालों को सुरक्षित रूप से और बड़े पैमाने पर सर्वोत्तम देखभाल प्रदान करने में मदद कर रहा है।

डोझी-प्रो मरीज के हार्ट रेट, रेस्पिरेटरी रेट और स्लीप एप्निया, मायोकार्डियल परफॉर्मेंस मेट्रिक्स जैसे अन्य नैदानिक पैरामीटर की निरंतर (प्रतिघंटा १०० से भी अधिक बार) और उत्तम निगरानी करने के लिए सक्षम करता है और वो भी मरीज के संपर्क में आए बिना। ये इंडस्ट्रियल ग्रेड कॉन्टैक्टलेस सेंसर, कम्युनिकेशन पॉड और एआय-पॉवर्ड ट्रेनिंग सिस्टम के साथ क्लाउड बेस्ड पेशंट मॉनिटरिंग टूल के साथ आता है जो शरीर के बॉडी वायटल्स का वास्तविक समय बताता है और मरीज की 24 घंटे निगरानी करने के लिए मदत करता है जो पहले हर एक घंटे बाद करनी पड़ती थी। इसके लावा डोझी-प्रो में एक्सटेंसिबल  प्लॅटफॉर्म वैशिष्टय भी है जो SPO2 सेंसर, ईसीजी और टेम्प्रेचर सेंसर जैसे अन्य उपकरणों को जोड़ता है ताकि ऑक्सीजन सैचुरेशन, शरीर का तापमान और ईसीजी की संपूर्ण जानकारी प्रदान की जा सके।

Related posts

TradeIndia.com मान्यता प्राप्त गूगल माय बिजनेस पार्टनर बना

Khula Sach

Mirzapur : आंगनबाड़ी केन्द्रों पर कुपोषण की रोकथाम हेतु वजन सप्ताह अभियान हुआ शुरू, कम वजन वाले बच्चों को किया जायेगा चिन्हित

Khula Sach

अपनी नई फिल्म-‘राम सेतु’ को लेकर अभिनेता अक्षय कुमार काफी उत्साहित हैं

Khula Sach

Leave a Comment