Khula Sach
कारोबारताज़ा खबर

वी फाउंडर सर्किल ने काउचफैशन में 1.50 लाख डॉलर का निवेश किया

मुंबई : वी फाउंडर सर्किल (डब्ल्यूएफसी) – एक स्टार्टअप इन्वेस्टमेंट प्लेटफॉर्म, ने शुरुआती दौर वाले स्टार्टअप में फंड्स का निवेश करने के अपने मिशन को जारी रखते हुए, बी 2 बी फैशन टेक कंपनी काउचफैशन में निवेश किया है। डब्ल्यूएफसी ने काउचफैशन में 1.50 लाख यूएस डॉलर का निवेश

किया है जो ईकामर्स कंपनियों और फैशन ब्रांडों को कंटेंट कॉमर्स के नए युग में संक्रमण में मदद करने के लिए उन्हें फैशन स्पेसिफिक इमेज रिकॉगनीशन प्रौद्योगिकी और कंटेंट नेटवर्क प्लेटफ़ॉर्म प्रदान करता है। स्टार्टअप ने फंड अपने सीड राउंड के एक हिस्से के रूप में जुटाया है और ग्राहकों के लिए उत्पाद ऑफर बढ़ाने, कंटेंट शेयरिंग बढ़ाने, टीम का विस्तार करने में इसका उपयोग करने की योजना बनाई है।

वी फाउंडर सर्कल के सीईओ और संस्थापक नीरज त्यागी ने कहा कि, “महामारी के बाद, एक उद्योग जिसने बूम देखा है वह ई-कॉमर्स है। अकेले भारत के ईकॉमर्स बाजार में 2023 तक 100 बिलियन यूएस डॉलर बृद्धि होने की उम्मीद है। नतीजतन, इस सेगमेंट में उपभोक्ताओं को आकर्षित करने, जोड़ने और बनाए रखने के लिए नित बहुत सारे नए अविष्कार हो रहे हैं। काउचफैशन का एआई सक्षम स्टाइल रिकमण्डेशन इंजन ई-कॉमर्स दिग्गजों को ठीक वैसा ही करने में मदद करता है। इसका प्रौद्योगिकी समाधान उपयोगकर्ता को उस समय तत्काल विभिन्न प्रकार के स्टाइल विकल्पों का सुझाव देता है जब वे इन ईकॉमर्स प्लेटफॉर्म पर कोई उत्पाद खरीदना चाहते हैं।”

काउचफैशन के सीईओ और सह-संस्थापक रोहित जायसवाल ने कहा कि “हमें खुशी है कि डब्ल्यूएफसी हमारे मॉडल में विश्वास करता है। उनके फंड के साथ-साथ, हम अपने रणनीतिक निवेशकों का साथ पाने के लिए भी उत्साहित हैं जो उद्योग में अपने अनुभव के साथ ही अपना व्यावसायिक कौशल से भी हमें लाभान्वित करेंगे जो आने वाले वर्षों में काउच फैशन को विश्व स्तर पर विकसित करने में हमारी बहुत मदद करेगा।”

काउचफैशन का कंटेंट कॉमर्स उपकरण पूरी ग्राहक यात्रा को मूल्यवान बनाता है – ग्राहकों को ईकामर्स प्लेटफॉर्म पर लाने से लेकर, उन्हें सही खरीद करने के लिए प्रेरित करने, खरीद आकार बढ़ाने, रिटर्न कम करने और खरीद के बाद या छोड़ी हुई कार्ट के मामले में ग्राहकों को दुबारा जोड़ने तक। अपनी विकास योजना के एक हिस्से के रूप में, काउचफैशन का लक्ष्य अपने सभी विभागों में अनेक प्रतिभाशाली पेशेवरों को नियुक्त करना है। स्टार्टअप अपनी प्रौद्योगिकी और कंटेंट रीढ़ को लगातार मजबूत कर रहा है जो इसे अगले वित्त वर्ष के अंत तक कई अंतरराष्ट्रीय ईकामर्स ब्रांडों के साथ जुड़ने में सक्षम बनाएगा।

Related posts

Poem : “जीने का सहारा बन गया”

Khula Sach

क्या इस हफ्ते इंद्रेश बचा पाएगा स्वाति और अपने होने वाले बच्चे को?

Khula Sach

‘‘यही तो थी जिसका इंतजार था!‘‘ एण्डटीवी के ‘भाबीजी घर पर हैं’ में अनिता भाबी की वापसी पर रोहिताश्व गौड़ ने कही यह बात

Khula Sach

Leave a Comment