Khula Sach
ताज़ा खबरमनोरंजन

क्या एक कैम्पिंग ट्रिप में होगी बंसल और बग्गा परिवारों के बच्चों की दोस्ती?

मुंबई : इस सप्ताह सोनी सब के ‘तेरा यार हूँ मैं’ की शुरूआत ‘लेट्स गो कैम्पिंग’ से हुई है, जिसमें बग्गा और बंसल परिवार अपने बच्चों के बीच की दुश्मानी खत्म करने की कोशिश करते हैं। सोनी सब का ‘तेरा यार हूँ मैं’ मुग्ध कर देने वाली स्टोरीलाइन से दर्शकों का मनोरंजन कर रहा है। इस शो में बतौर दलजीत, सायंतनी घोष की एंट्री से कहानी में एक अलग मोड़ आ गया है। राजीव और दलजीत अपनी शादी की चाल को शक्ति और बंसल परिवार के सामने बनाये रखने के तरीके खोज रहे हैं और उनके बच्चों की दोस्ती कराना उनका एक और काम हो गया है। बच्चों को एक मजेदार कैम्पिंग ट्रिप पर ले जाने से बेहतर क्या होगा? तो एक मस्ती भरी सैर और कैम्पिंग के लिये तैयार हो जाइये, क्योंकि घटनाओं का एक रोमांचक मोड़ दर्शकों का इंतजार कर रहा है।

राजीव और दलजीत चाहते हैं कि ऋषभ और बैरी दोस्त बन जाएं और इसके लिये वे कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। इन बच्चों को एक-दूसरे का दोस्त बनाने के लिये नये-नये तरीके आजमाने पर मुश्किलों का सामना करने के बावजूद राजीव और दलजीत ने ट्विंकल का बर्थडे मनाने के लिये अपने बच्चों को कैम्पिंग पर ले जाने का फैसला किया है। बच्चे बाहर टेंट में ठहरे हैं और कपल ने अलग कमरा लिया है। दलजीत और राजीव रात में बच्चों को डराने की योजना बनाकर स्थिति को थोड़ा और रोमांचक बनाने की कोशिश करते हैं, ताकि बच्चे एक-दूसरे पर भरोसा करने के लिये मजबूर हो जाएं। दलजीत स्पीकर पर अलग-अलग जंगली जानवरों की आवाज बजाती है, ताकि बच्चे डर जाएं, जबकि दूसरी ओर शक्ति एक चौकीदार का भेष बनाकर उनके कैम्पिंग ट्रिप को बर्बाद कर देता है और कैम्पिंग की बिजली काटकर स्थिति को अजीब बना देता है।

क्या यह कैम्पिंग ट्रिप ऋषभ और बैरी के बीच नई दोस्ती की शुरूआत होगी? इस बार शक्ति क्या योजना बना रहा है?

दलजीत की भूमिका निभा रहीं सायंतनी घोष ने कहा, ‘‘आगामी स्टोरीलाइन ने सेट पर इस सप्ताह को मजेदार बना दिया है। अलग जगह पर शूटिंग करने से ताजगी भरा बदलाव आया है और ऐसा करते हुए हमें लगा कि हम सचमुच एक साथ कैम्पिंग कर रहे हैं। आने वाले एपिसोड्स मजेदार पलों से भरे हैं और मुझे यकीन है कि हमारे दर्शक भी हमारी इस ट्रिप का मजा लेंगे।’’

ऋषभ की भूमिका निभा रहे अंश सिन्हा ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह अब तक का मेरा सबसे पसंदीदा शूट है। इस सीक्वेंस की शूटिंग वाकई मजेदार रही और को-स्टार्स के तौर पर यह हम सभी के लिये एक नया अनुभव था। जब हमने बंसल और बग्गा परिवारों की इस ट्रिप के बारे में सुना, तो हम तुरंत रोमांचित हो गये। मुझे अच्छा लग रहा है कि मैं ‘तेरा यार हूँ मैं’ फैमिली के साथ कितनी मस्ती भरी यादें बना रहा हूँ और दूसरों से ज्यादा, हम नौजवानों ने इसका सबसे ज्यादा मजा लिया। बैरी और मैं स्क्रीन पर दोस्त नहीं है, लेकिन पर्दे के पीछे हमारी अच्छी दोस्ती है। दर्शकों के लिये यह देखना रोमांचक होगा कि बैरी और ऋषभ इस ट्रिप के बाद दोस्त बनते हैं या नहीं। तो एक मस्तीभरा सप्ताह दर्शकों का इंतजार कर रहा है। इसलिये देखते रहिये।’’

Related posts

Poem : प्यार तो तुझसे आज भी हैं

Khula Sach

नजरिया : हां हम भारतीय हैं !

Khula Sach

नव वर्ष का पहला दिन

Khula Sach

Leave a Comment