Khula Sach
ताज़ा खबरदेश-विदेशमीरजापुर

Mirzapur : टीका आने के साथ ही हम समस्या से समाधान की ओर बढ़ रहे : सीएमओ

  • सीफॉर के सहयोग से स्वास्थ्य संचार सुदृढ़ीकरण कार्यशाला आयोजित
  • सीएमओ ने कोविड टीकाकरण पर मीडिया को दी विस्तार से जानकारी कहा “टीका पूरी तरह सुरक्षित व असरदार, मन में न पालें कोई भी भ्रम”

रिपोर्ट : तपेश विश्वकर्मा

मीरजापुर, (उ.प्र.) : कोविड टीकाकरण की जल्द ही पूरे देश में शुरुआत होने जा रही है, जो कि यह इशारा करती है कि अब हम समस्या से निकलकर समाधान की ओर बढ़ रहे हैं । यह बात मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. पी.डी. गुप्ता ने मंगलवार को स्वयंसेवी संस्था सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च (सीफॉर) के सहयोग से आयोजित स्वास्थ्य संचार सुदृढ़ीकरण कार्यशाला के दौरान कही। उन्होंने इस अवसर पर उपस्थित पत्रकार साथियों को 16 जनवरी से शुरू हो रहे टीकाकरण को लेकर जिले में की गयीं तैयारियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी और टीके को लेकर पत्रकारों के सवालों का जवाब भी दिया ।

इस अवसर पर डॉ. गुप्ता ने कहा कि 16 जनवरी से शुरू होने जा रहे टीकाकरण की तैयारी स्वास्थ्य विभाग ने पूरी तरह से कर ली है और दो बार पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) कर हर कमी को दूर किया जा चुका है । पहले चरण में जिले के 10025 स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण होना है । उन्होंने कहा कि टीकाकरण के लगभग 42 दिन बाद कोरोना से लड़ने की प्रतिरोधक क्षमता बन जाएगी । इसलिए बार-बार कहा जा रहा है कि- ‘दवाई भी-कड़ाई भी’ यानि अभी मास्क लगाना और एक दूसरे से दो गज की दूरी का पालन करना सभी के लिए जरूरी होगा । साबुन-पानी से अच्छी तरह से हाथ धुलने से जहाँ कोरोना से बचाव होगा वहीँ अन्य संक्रामक बीमारियों से भी बचे रहेंगे । उन्होंने कहा कि कोरोना काल में लोगों को सुरक्षित रहने के लिए जरूरी सावधानी बरतने के बारे में जागरूक करने में मीडिया की अहम् भूमिका रही। बीमारी से बचाव और नियंत्रण दोनों में सहयोग मिला। उनके सकारात्मक भूमिका निभाने का ही नतीजा रहा कि आज हम कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई को जीतने की ओर अग्रसर हैं । इसके लिए मीडिया की जितनी तारीफ़ की जाए वह कम है ।

इस अवसर पर अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी व कोविड के नोडल अधिकारी डॉ. अजय कुमार ने बताया कि वर्तमान में जनपद में कुल 43 एक्टिव केस हैं । केस कम हुए हैं पर सावधानी अब भी जरूरी है । 16 जनवरी को 12 ब्लॉक के स्वास्थ्य केन्द्रों पर कोरोना टीकाकरण किया जायेगा, जिसकी सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं । एक बूथ पर एक दिन में 100 लोगों को टीका लगाया जायेगा । उन्होंने भी कहा कि पूरे कोरोना काल में स्वास्थ्य विभाग, पुलिस और फ्रंट लाइन वर्कर्स की तरह ही मीडिया कर्मियों ने भी समाज को जागरूक करने का जो कार्य किया है वह सराहनीय रहा है।

इस अवसर पर जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. नीलेश श्रीवास्तव ने बताया कि पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों, दूसरे चरण में पुलिस कर्मी व होमगार्ड, तीसरे चरण में 50 वर्ष से अधिक के व्यक्तियों और गंभीर बीमारी से ग्रसित लोगों का टीकाकरण किया जायेगा। टीकाकरण के लिए व्यक्ति की सहमति आवश्यक है । यह टीका कोरोना के नए स्ट्रेन के लिए भी कारगर है । उन्होंने कहा कि कोरोना टीकाकरण से जुड़ी किसी भी अफवाहों पर ध्यान न दें यह पूरी तरह से सुरक्षित और असरदार है ।

कार्यशाला में उपस्थित पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए सीएमओ ने कहा कि कोविड का टीका पूरे मानकों का पालन करते हुए तैयार किया गया है और परीक्षण में खरा उतरने के बाद ही इसे लोगों को लगाया जा रहा है । इसलिए इसको लेकर किसी को कोई भ्रम नहीं होना चाहिए क्योंकि लोगों में इसलिए भी टीके के प्रति पूरा विश्वास होना चाहिए कि इस टीके को सबसे पहले हम चिकित्सा कर्मियों को ही लगाया जा रहा है । पत्रकारों ने जानना चाहा कि इसका टीका कितनी बार और कितने दिन के बाद लगेगा तो सीएमओ ने बताया कि इसके दो डोज लगेंगे और पहला टीका लगने के 28 दिन बाद दूसरा टीका लगेगा । टीके की मात्रा के सवाल पर उन्होंने बताया कि प्वाइंट पांच एमएल का एक टीका होगा । यह कितने दिन तक असरकारी होगा के सवाल पर उन्होंने बताया कि इसका अभी कोई प्रमाणिक साक्ष्य नहीं है किन्तु इतना जरूर है कि यह लम्बे समय तक असरकारी होगा । सवाल-जवाब के क्रम में पत्रकारों ने इस कार्यशाला के आयोजन की सराहना की और कहा कि टीकाकरण को लेकर मीडिया के तमाम सवालों का आज जवाब मिल गया जो कि समय की मांग भी थी । स्वास्थ्य विभाग और मीडिया के आमने-सामने की वार्ता से मीडिया को भी रिपोर्टिंग में बड़ी सहूलियत मिलेगी ।

इस अवसर पर सीफॉर संस्था की नेशनल लीड रंजना द्विवेदी ने कोविड के दौरान मीडिया द्वारा प्रस्तुत की गयीं सकारात्मक ख़बरों की भरपूर सराहना की और कहा कि जब कोई मुश्किल वक्त होता है तो मीडिया द्वारा जागरूकता को लेकर सुझाये गए उपायों का असर समुदाय पर पूरी तरह से देखने को मिलता है । उन्होंने कहा कि अब आगे टीकाकरण को लेकर भी मीडिया से इसी तरह के सहयोग की अपेक्षा है । उन्होंने कार्यशाला में उपस्थित पत्रकार साथियों के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया और आभार जताया।

Related posts

Mirzapur : फतहाँ वार्ड के निरीक्षण के दौरान पगडंडियों पर चले नपाध्यक्ष

Khula Sach

Mirzapur : निःशुल्क कोरोना वैक्सिन पाने के लिए दुआ का मंत्र – हे, प्रभु बीमार हमको कीजिए !

Khula Sach

Mirzapur : अदवा नदी के गहरे पानी में डूबने से युवक की मौत

Khula Sach

Leave a Comment