Khula Sach
अन्यताज़ा खबर

Mumbai : आम नागरिकों के लिए लोकल ट्रेन की सेवा जल्द !

रंग लाई पूर्व उप महापौर बाबूभाई भवानजी की मेहनत 

रिपोर्ट : रितेश वाघेला

मुंबई : भाजपा के वरिष्ठ नेता तथा मुंबई मनपा के पूर्व उपमहापौर बाबूभाई भवानजी की  मेहनत अब रंग ला रही है। उनकी मांग पर आम मुंबईकरों के लिए  लोकल ट्रेन शुरू करने के लिए रेल विभाग अब सक्रिय हो गया है। महाराष्ट्र सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग ने मध्य तथा पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक एवं रेलवे सुरक्षा बल के आयुक्त के पास इसका प्रस्ताव बुधवार को भेजा है। इस पर निर्णय अब रेलवे प्रशासन को लेना है। सब कुछ ठीक रहा तो आने वाले कुछ दिनों में आम नागरिकों को लोकल ट्रेन में सफर करने का अवसर करीब आठ महीने बाद एक बार फिर से मिल सकेगा, जिससे मुंबई एक बार फिर से पटरी पर लौटती दिखेगी।

आपदा प्रबंधन विभाग ने जो प्रस्ताव भेजा है, उसमें आम नागरिकों के लिए सुबह की पहली लोकल सुबह 7 बजकर 30 मिनट, अत्यावश्यक सेवाओं के लिए सुबह 8 से 10 बजकर 30 मिनट, आम नागरिकों के लिए सुबह 11 बजे से  शाम 4 बजकर 30 मिनट, अत्यावश्यक सेवाओं के लिए शाम 5 बजे से 7 बजकर 30 मिनट तथा आम नागरिकों के लिए रात्रि 8 बजे से अंतिम लोकल सेवा तक वैध टिकट अथवा सीजन पास पर यात्रा की सुविधा उपलब्ध कराने का समावेश है। महिलाओं के लिए एक-एक घंटे के अंतराल पर लोकल ट्रेन संचालित करने का भी अनुरोध किया गया है।

विदित हो कि भाजपा के वरिष्ठ नेता भवानजी लोकल ट्रेन में भीड़ कम करने के लिय सरकारी आफिस, कोर्ट और निजी कार्यालय तथा दुकानों के लिए अलग-अलग समय तय किए जाने की मांग करते आ रहे हैं। बाबूभाई भवानजी ने सरकार से अपील की है कि वह मुंबई में आम लोगों के लिए लोकन ट्रेन चलाये और मुंबई में सामान्य कामकाज को तीन भागों में विभाजित करे। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा हुआ तो भीड़ बंट जाएगी और लोकल ट्रेन में भीड़ नहीं बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि बिना लोकल ट्रेन चलाये मुंबई में सामान्य जन-जीवन पटरी पर नहीं आएगा। इस मांग को लेकर भवानजी कई बार रेल मंत्री पीयुष गोयल तथा मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मिल चुके हैं और पत्र व्यवहार करते रहे हैं।

Related posts

Mirzapur : 14 मार्च को राष्ट्रपति के आगमन को लेकर सेना ने हेलीकॉप्टर से किया लाइव टेस्टिंग

Khula Sach

Mirzapur : मड़िहान विधानसभा की मासिक बैठक उमड़े जनसैलाब के बीच हुई संपन्न

Khula Sach

खाद्य पदार्थों में मिलावट गम्भीर अपराध – प्रो.करुणा चांदना

Khula Sach

Leave a Comment