Khula Sach
कारोबारताज़ा खबरदेश-विदेश

संक्रामक रोगों की सटीक पहचान के लिए इन्‍फेक्सन टेस्ट लॉन्च

~ हेस्टैक एनालिटिक्स की द लैब एक्सपर्ट के साथ साझेदारी ~

मुंबई : आईआईटी बॉम्‍बे में विकसित जीनोमिक्स पर आधारित जांच की सुविधा प्रदान करने में सबसे अग्रणी हेस्टैक एनालिटिक्स ने मुंबई में जीनोमिक्स पर आधारित संक्रामक रोगों का टेस्ट इन्‍फेक्‍सन लॉन्च करने के लिए द लैब एक्सपर्ट के साथ साझेदारी की है। यह पहल शहर में मरीजों को उनके रोग की जांच कराने की सुविधा देने का महत्वपूर्ण अवसर प्रदान करेगी। इस जांच केंद्र में सटीक ढंग से की गई जांच के नतीजे और बेहतरीन और सक्षम सुविधाएं मरीजों को मिलेंगी। इस जांच केंद्र को संक्रामक बीमारियों पर लगाम लगाने के लिए प्रभावी ढंग से आधुनिक तकनीकों से लैस किया गया है।

इन्‍फेक्स टेस्ट आधुनिक जीनोमिक्स सोल्यूशन है, जो संक्रामक बीमारियों की तेज, सही और सटीक पहचान के लिए एडवांस डेटा एनालिटिक्स का प्रयोग करती है। “मेड इन इंडिया” के मालिकाना हक वाली तकनीक पर आधारित टेस्ट में सभी बैक्टारिया और फंगस की पहचान करने की क्षमता है। इसके साथ ही टेस्ट से प्रमुख एंटीमाइक्रोबियल प्रतिरोधी जीन्स की भी आसानी से पहचान होती है। इस क्षमता से जांचकर्ता जांच के लिए साक्ष्य आधारित नजरिया अपनाते हैं। 12 घंटे के समय में सैंपल के सीधे विश्लेषण से पारंपरिक माइक्रोबियल कल्चर की बाधाएं दूर होती हैं, जिससे इस टेस्ट के सटीक और संपूर्ण रिजल्ट काफी कम समय में मिलते हैं। डॉक्टरों को सहयोग देने वाली सेवाओं के हब के रूप में यह टेस्ट डॉक्टरों, शोधकर्ताओं और नीति निर्माताओं के लिए तालमेल को बढ़ावा देता है। इससे यह टेस्ट मुंबई में संक्रामक रोगों की चुनौतियों से प्रभावी तरीके से निपट रहा है।

हेस्टैक एनालिटिक्स में मेडिकल अफेयर्स, इंफेक्‍शियस डिजीजेज की डायरेक्‍टर डॉ. महुआ दासगुप्ता कपूर ने कहा “अपने हेडक्वॉर्टर के शहर में यह साझेदारी जीनोमिक्स को बीमारी की जांच करने के लिए गोल्ड स्टैंडर्ड बनाने की हमारी प्रतिबद्धता का प्रतीक है। हम जीनोमिक्स के क्षेत्र के अपने सफर का इस तरह से नेतृत्व कर काफी उत्साहित हैं। स्वास्थ्य की जांच करने वाली प्रमुख लैब ने हेस्टैक एनालिटिक्स को भारत में स्वास्थ्य ऱक्षा में बड़ा बदलाव लाने वाली जीनोमिक्स की मंजूरी को प्रदर्शित करने की इजाजत दी है। हमारा विश्वास है कि एक साथ हम मरीजों का इलाज ज्यादा प्रभावी ढंग से करने के लिए जीनोमिक्स की क्षमता का पूरी तरह से इस्तेमाल कर सकेंगे।”

द लैब एक्सपर्ट की डॉ अनुपमा कानन, डायरेक्‍टर (साइंटिफिक एवं टेक्निकल) का कहना है, “हेस्टैक एनालिटिक्स ने अपने पोर्टफोलियो में इन्‍फेक्‍सन टेस्ट लॉन्च किया है। जीनोमिक्स तकनीक को लागू करने के माध्यम से आधुनिक स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने की हमारी प्रतिबद्धता की एक मिसाल है। हेस्टैक एनलिटिक्स के साथ साझेदारी में हमारा लक्ष्य मुंबई के डॉक्टरों को के लिए आधुनिक तकनीक पेश कर उन्हें रोग के बेहतर इलाज की सुविधा से लैस करना है। इस तकनीक से डॉक्टर जीवन के लिए खतरा होने वाले संक्रामक रोगों का काफी प्रभावी ढंग से इलाज कर सकते हैं।”

द लैबएक्‍सपर्ट के एनजीएस कोऑर्डिनेटर एवं मैनेजिंग कमिटी के सदस्‍य डॉ मनोज गौतम ने कहा “‘जीनोमिक्‍स आधारित टेस्‍ट की ताकत बैक्‍टीरिया और फंगस से होने वाले सभी रोगों की पहचान करने की क्षमता में निहित है, साथ ही यह महत्‍वपूर्ण एंटी माइक्रोबियल जीन्‍स की भी पहचान करता है। संक्रामक रोग अनुसंधान में अपनी विशेषज्ञता का संयोजन कर, हम मुंबई में सभी हेल्‍थकेयर प्रोफेशनल्‍स को एक शक्तिशाली साधन मुहैया कराना चाहते हैं ताकि रोग को प्रभावी ढंग से हराया जा सकेा’’

Related posts

हैप्पी लाइफ के लिए जरूरी है प्यार, स्पर्श, हग और सेक्स 

Khula Sach

एण्डटीवी के कलाकारों ने किया अपने गुरू को नमन

Khula Sach

Poem : ” दौर है गुजर जाएगा “

Khula Sach

Leave a Comment